आंध्र प्रदेश में एक बेकरी शॉप मालिक के घर दिनदहाड़े चोरी की वारदात को दिया था अंजाम   

0 123

कानपुर :  स्पेशल टास्क फोर्स द्वारा पिछले दिनों गिरफ्तार शातिर लुटेरे राजकुमार और साथी से पूछताछ में कई नए तथ्य सामने आए हैं। पता चला है कि कानपुर में वारदात को अंजाम देने के बाद जब उस पर दबाव बढ़ा तो वह आंध्र प्रदेश के अनंतपुर में जाकर छुपा था वहां भी उसने एक बेकरी शॉप मालिक के घर दिनदहाड़े चोरी की वारदात को अंजाम दिया था।

एसटीएफ ने पिछले दिनों 25 हजार के इनामी दबौली वेस्ट निवासी राजकुमार उर्फ शेरा को फतेहपुर निवासी उसके साथी दीपक सिंह के साथ गिरफ्तार किया था। पुलिस ने उनके पास से एक तमंचाए पांच चोरी के मोबाइल,56 हजार की नगदी और सोने के जेवरात बरामद किए उनसे मीडिया पास भी बरामद हुए थे।

पूछताछ में पता चला कि इन अपराधियों ने खुद को पुलिस से बचाने के लिए मीडिया का चोला ओढ़ा था और जब कभी भी पुलिस उनके वाहन रोकती तो वह मीडिया का कार्ड दिखाकर बच जाते थे पूछताछ में उन्होंने माना कि अगस्त 2020 में इन्होंने अपने साथी दीपक,दिवाकर,सोनू राजपूत और भरत पांडे के साथ मिलकर पनकी स्टेशन के पास  ई ब्लॉक में लूट की वारदात को अंजाम दिया था। सोनू राजपूत के गिरफ्तार होने के बाद जब शेरा का नाम सामने आया तो वह आंध्र प्रदेश के अनंतपुर जिले में जाकर छुप गया।

पूछताछ में पता चला है कि 28 जनवरी को शेरा ने अपने साथी अंशु सिंह उर्फ दीपक सिंह के साथ अनंतपुर के तुमकुंडा स्थित एक बेकरी शॉप मालिक के घर दिनदहाड़े चोरी की वारदात को अंजाम दिया था। एसपी एसटीएफ तेज बहादुर सिंह ने बताया कि राजकुमार उर्फ शेरा पर सात मुकदमे दर्ज हैं जबकि दीपक के खिलाफ चार मुकदमे दोनों को जेल भेजा गया है और इनके अन्य साथियों की तलाश की जा रही है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.