छापेमारी की जानकारी के बाद शातिरों ने बदला ठिकाना, तीनों की धरपकड़ में जुटी पुलिस

0 93

   

कानपुर :  ऑनलाइन शापिंग कंपनी अमेजन में फेक आइडी से आर्डर बुक करा रिफंड लेने के बहाने तीन करोड़ की चपत लगाने के मामले में पुलिस को समानांतर वेयर हाउस चलाने वाले तीन शातिरों की तलाश है। यह तीनों शातिर कालपी के मंजीत गुप्ता के लिए काम करते थे। तीनों रिफंड के नाम पर बदले गए सामान को लेने के बाद समानांतर वेयर हाउस पहुंचाते थे। जहां से माल की डिलीवरी कालपी के अन्य दुकानदारों को दी जाती थी।

ऑनलाइन शापिंग कंपनी अमेजन में आउट सोर्सिंग कर्मियों की मदद से फर्जी आइडी से आर्डर बुक कराकर नकली और पुराना सामान रखकर रिफंड करा तीन करोड़ की धोखाधड़ी की थी। मामले में पुलिस ने पहले पांच कर्मचारियों को गिरफ्तार किया था। बाद में पुलिस ने कालपी के मंजीत गुप्ता समेत पांच दुकानदारों को गिरफ्तार कर सात लाख रुपये का माल बरामद किया था। पुलिस की छानबीन में सामने आया था कि पकड़े गए मंजीत ने अमेजन के चोरी के माल से अपना एक नया स्टोर खोल लिया था। छानबीन में पता चला कि मंजीत के गिरोह के तीन सदस्य अभी फरार हैं।

जिनकी तलाश की जा रही है। पुलिस के मुताबिक फरार चल रहे मंजीत के करीबी उसके इशारे पर बर्रा में समानांतर वेयर हाउस चलाते थे। जहां दिनभर चोरी का माल निकालने के बाद उसे वेयर हाउस पहुंचाया जाता था। उसके बाद मंजीत के आर्डर पर इस माल को कालपी के अन्य दुकानदारों के यहां सप्लाई किया जाता था। मंजीत के यहां छापेमारी की जानकारी के बाद शातिरों ने ठिकाना बदल दिया। पुलिस ने मंजीत के बताए गए स्थान पर वेयर हाउस के बर्रा में संभावित स्थानों पर छापेमारी की, लेकिन वेयर हाउस का सटीक पता नहीं लग सका है। एसपी साउथ दीपक भूकर ने कहा कि समानांतर वेयर हाउस चलाने वाले फोन बंद करके फरार हैं। पुलिस सर्विलांस के जरिए तीनों की धर पकड़ के प्रयास कर रही है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.