महा शिवरात्रि के पर्व को शान्तिपूर्ण ढ़ंग से मनाये जाने के दिये गये निर्देश

0 99

सुरक्षा के साथ-साथ सतर्कता व स्वच्छता जरूरी- जिलाधिकारी

शासन की गाइड लाइन का शत प्रतिशत पालन कराने के दिए निर्देश

 

उन्नाव : महा शिवरात्रि के पर्व को शान्तिपूर्ण ढ़ंग से मनाये जाने को लेकर जिलाधिकारी रविंद्र कुमार की अध्यक्षता में पन्नालाल सभागार में बैठक का आयोजन किया गया। बैठक में सम्बन्धित विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिये गये कि शोभायात्रा को सकुशल सही समय पर सम्पन्न कराया जाये। यात्रा के दौरान चैराहों की साफ-सफाई की व्यवस्था पहले से करा ली जाये। जिन स्थानों पर जाम की स्थिति की सम्भावना बनी रहती है। उन स्थानों का अतिक्रमण हटवा दिया जाये तथा शोभायात्रा की सुरक्षा को दृष्टिगत रखते हुये चिन्हांकित स्थलों पर सुरक्षा बल तैनाती की जाये। उन्होंने कहा जो कमियां अभी भी अधूरी हैं उन्हें  तत्काल पूर्ण कर लिया जाए। किसी भी कमी में कोई लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। जिलाधिकारी ने कहा कि कावड़ियोंध्शिव भक्तों को किसी भी प्रकार की समस्या नहीं होनी चाहिए उनके लिए अच्छे रास्ते की व्यवस्था हो, मेडिकल व्यवस्था हो, पर्याप्त प्रकाश व्यवस्था हो और उन्होंने कहा कि रास्तों की साफ-सफाई  अच्छे से होनी चाहिए।

यह भी ध्यान रखा जाये कि असमाजिक तत्वों पर कड़ी नजर रखी जाये, संवेदनशील स्थलों पर महिला एवं पुरूष सुरक्षा बल तैनात किया जाये। जिलाधिकारी ने कहा समस्त स्नान करने वाले घाटों पर साफ-सफाई, रस्सी, गोताखोर, नांवे आदि कि उचित व्यवस्था होनी चाहिये। जिलाधिकारी ने समस्त उप जिलाधिकारी व क्षेत्राधिकारी नगर एवं सम्बन्धित थाना क्षेत्रों के प्रभारी को भी निर्देश दिये कि अपने-अपने क्षेत्र में पहले से ही भ्रमण कर जो भी कमियां हों उन्हें तत्काल ठीक करायें तथा प्रत्येक थाने पर पीस कमेटी की बैठक करायें।  उन्होंने कहा  सभी अधिकारी कर्मचारी  इस कार्यक्रम को  सकुशल संपन्न  कराएं  और श्रद्धालुओं को असुविधा न होने दें।

उन्होंने कहा कि मंदिर परिसर में सफाई समय-समय पर होती रहनी चाहिए तथा वालेन्टियर्स तैनात रहने चाहिये और जलाभिषेक करने में किसी को भी असुविधा नहीं होगी उन्होंने कहा जलाभिषेक के समय जनता एक स्थान पर एकत्रित नहीं होनी चाहिए आवागमन बना रहे। जिलाधिकारी ने कहा सभी संबंधित विभागों को जो जिम्मेदारी श्रद्धालुओं की सेवा के लिए दी गई है इसमें कोताही बर्दाश्त नहीं की जाएगी अपनी ड्यूटी को ईमानदारी के साथ करें व पर्व के दौरान मन्दिरों में निर्बाध विद्युत आपूर्ति रहे ,यातायात की व्यवस्था, साफ-सफाई, पेयजल, शौचालयों की व्यवस्था, मंदिर परिसर में प्रकाश व्यवस्था, कावड़ मार्गों खदानों की मरम्मत की व्यवस्था शोभा यात्रा में सुरक्षा व्यवस्था सुदृढ़ करने हेतु सीसीटीवी कैमरों की व्यवस्था आदि होनी चाहिये। उन्होंने कहा प्लास्टिक मुक्त कावड़ यात्रा का प्रयास किया जाए और आबकारी अधिकारी व अभिहित अधिकारी को निर्देश दिए कि कांवड़ मार्ग पर जो शराब व मीट की दुकानें हैं वह भी बंद होनी चाहिए।

जिलाधिकारी ने कहा कि कोई भी शराब, मीट की दुकान नहीं खुलनी चाहिए अगर कोई दुकान खुली पाई जाती है तो उस पर दंडात्मक कार्यवाही की जाएगी। उन्होंने कहा जिस प्रकार से पिछले वर्षों में शांतिपूर्ण तरीके से त्योहारों को मनाया गया है उसी प्रकार से इस बार का भी त्यौहार मनाया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि शासन की गाइड लाइन के अनुसार ही कार्य होने चाहिए शासन के निर्देशों का अनुपालन न करने वाले पर कठोर कार्यवाही की जाएगी। सभी लोग मास्क लगाकर रहेंगे तथा सामाजिक दूरी बनाए रखेंगे, सबसे पहला काम है कि जनता का हित देखना है जनपद में ऐसा वातावरण तैयार करें  जो की जनहितकारी हो। जिलाधिकारी ने बैठक में उपस्थित समस्त धर्म गुरुओं को आश्वासन देते हुए कहा गौरव पूर्ण तरीके से कार्य करें पूरा जिला प्रशासन आपके साथ है। इस बात का हमेशा ध्यान रखें कि सभी धर्म एक समान हैं।

 

पुलिस अधीक्षक आनंद कुलकर्णी ने कहा जनपद के जिन स्थानों से कावड़ियां  गुजरते हैं उन स्थानों पर मार्गों के चिन्हीकरण ऐरो  निशान भी लगा दिए जाएं जिससे कि कावड़ियों को कोई परेशानी न होने पाये। उन्होंने कहा कावड़ियों के प्रति सभी अधिकारी कर्मचारी अच्छा आचरण व्यवहार रखें और  कावड़ियों का मार्ग सुगम सुविधाजनक सहज बनाएं और उनकी अच्छे से सेवा भाव के साथ सम्मान आदर करें। फाल्गुन मास का यह सबसे पुण्य कार्य होता है। पुलिस अधीक्षक ने कहा कोई भी पुलिस अधिकारी कर्मचारी अपने ड्यूटी प्वाइंट से गायब नहीं मिलना चाहिए

Leave A Reply

Your email address will not be published.