मध्यप्रदेश में 122 साल पहले हुई थी अप्रैल में भीषण गर्मी

0 34

जबलपुर : भीषण गर्मी में अप्रेल में 122 साल पुराना रिकार्ड तोड़ दिया है। अप्रैल के पहले सप्ताह में इतनी गर्मी 122 साल पहले पड़ी थी। मध्य प्रदेश में दिन का तापमान 44 डिग्री पार कर गया। देश के दस सबसे ज्यादा गर्म शहरों में राजगढ़ व दतिया आ गए हैं। जबलपुर में भी तापमान और ज्यादा बढऩे के आसार हैं तो इंदौर व भोपाल में लूट का अलर्ट है।

मौसम के जानकारों की मानें तो पाकिस्तान से आने वाली हवाएं 12 दिन के अंतर से आई जिसके चलते मार्च से ही तेज गर्मी शुरु हो गई। 122 वर्ष के इतिहास में अप्रैल में पहली बार इतनी अधिक गर्मी पड़ रही है, अब पश्चिमी विभोक्ष के कारण ऐसे हालात बने हैं कि आग बरस रही है। अभी यह ईरान व अफगानिस्तान के ऊपर है। जिसके चलते हवाएं अरब सागर से नमी नहीं ले पा रही हैं।

यही कारण है कि पश्चिमी हवाओं को गर्म हवाओं का अतिरिक्त बल मिला है। अभी गर्मी से राहत के कोई आसार नहीं हैं। पहले सप्ताह में एमपी के कुछ शहरों में तापमान 44 डिग्री के पार हो गया है। अगर ऐसा ही रहा तो अप्रैल में ही पारा 46 डिग्री पार कर जाएगा, क्योंकि यह पहला मौका है कि अप्रैल के पहले व मई के तापमान में बढ़ा अंतर होने के आसार हैं।

ग्वालियर व भोपाल में रात तो राहत भरी रह सकती है। मध्य व उत्तरी हिस्से मेें न्यूनतम तापमान सामान्य रहने की संभावना है। इंदौर, नर्मदापुरम् व जबलपुर सहित दक्षिणी हिस्सों में रात गर्म होने वाली है। सूत्रों की मानें तो जबलपुर, भोपाल, ग्वालियर, नर्मदापुरम् सहित प्रदेश के अधिकांश शहरों में तापमान अभी और ज्यादा बढ़ेगा जो 47 डिग्री तक पहुंच सकता है। इंदौर में दिन में निकला भी मुश्किल होगा। भोपाल व इंदौर में दस दिन से ज्यादा दिन तक लू चलने के आसार हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.