बीच सड़क पर कत्‍ल करने वाले शहजाद पर 25 हजार का इनाम

0 14

मेरठ : मेरठ के लिसाड़ी गेट थानाक्षेत्र में रविवार को साजिद की दिनदहाड़े चाचाओं द्वारा चाकू से गोदकर मार डालने की घटना का शासन ने संज्ञान लिया है। हत्या का वीडियो इंटरनेट मीडिया पर वायरल हुआ था। इस संबंध में शासन ने पुलिस से आरोपित पर कार्रवाई की रिपोर्ट मांगी है। इधर, पुलिस ने फरार तीनों चाचाओं पर रासुका लगाने की तैयारी शुरू कर दी है। साथ ही मुख्य आरोपित शहजाद पर 25 हजार का इनाम घोषित कर दिया है। उधर, हत्या को अंजाम देने के बाद तीनों आरोपित हापुड़ के पिलखुवा कस्बे में अपने रिश्तेदारों के यहां छिप गए थे और पुलिस की दबिश के दौरान छत से कूदकर भाग गए।

पुलिस ने रिश्तेदारों को हिरासत में ले रखा है। इसमें मेरठ जहाजपुर का सावेज भी शामिल है। चाकू से गोदकर मारा था फिरोजनगर घंटे वाली गली निवासी यूनुस का प्रापर्टी को लेकर भाई शहजाद, जावेद और नौशाद से विवाद चल रहा है। रविवार को ब्रह्मपुरी थाना क्षेत्र में स्थित अंजुम पैलेस के पास बीच सड़क पर साजिद पुत्र यूनुस की तीन चाचा शहजाद, जावेद और नौशाद ने चाकू से गोद कर मार डाला था, लेकिन वहां खड़े लोग वारदात को मूक दर्शक बने देखते रहे। लोगों में इतनी दहशत थी कि किसी ने भी आरोपितों को पकडऩे का साहस नहीं किया। वारदात के समय साजिद तारापुरी मस्जिद से नमाज पढ़कर घर लौट रहा था। नामजद तीनों चाचा अभी पुलिस की गिरफ्त से दूर हैं।

रासुका लगाने की भी तैयारी एसपी सिटी विनीत भटनागर ने बताया कि चाकू से साजिद पर वार करने वाले शहजाद पर 25 हजार का इनाम घोषित कर दिया गया है। साथ ही तीनों चाचाओं पर रासुका लगाने की तैयारी की जा रही है। आरोपितों ने सरेराह हत्याकांड को अंजाम देकर भय फैलाने का काम किया है। बताया गया है कि हत्याकांड को अंजाम देने के बाद आरोपित पिलखुवा कस्बे में अपने रिश्तेदारी में जाकर छिप गए थे। पुलिस ने जब वहां दबिश दी तो आरोपित छत से कूदकर भाग गए। आरोपितों को शरण देने वालों में परिवार की महिलाएं और रिश्तेदार मामा भी शामिल है।इनका कहना है तीनों आरोपितों की गिरफ्तारी को क्राइम ब्रांच और स्थानीय पुलिस को लगाया है। आरोपितों के रिश्तेदारों के यहां दबिश दी जा चुकी है। आरोपित लगातार स्थान बदल रहे है। जल्द ही सभी को पकड़ लिया जाएगा। पुलिस की किस स्तर पर लापरवाही हुई है। इसकी जांच एसपी सिटी को सौंपी है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.