26 फरवरी को बंदी के समर्थन में व्यापारी संगठनों को एक साथ जोड़ने की तैयारी शुरू   

0 96

कानपुर :  जीएसटी के खिलाफ व्यापारियों ने एकजुटता दिखाते हुए अभियान शुरू कर दिया। मर्चेंट चैंबर हॉल में आयोजित कार्यक्रम में अलग-अलग व्यापार संगठन के पदाधिकारियों को जुटाया गया।  हालांकि इसके लिए पहले से ही बाजारों में जनसंपर्क अभियान चलाया जा रहा था।

 

कंफेडरेशन ऑफ आल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) ने 26 फरवरी को बंदी का ऐलान किया है। इस बंदी के लिए कैट के पदाधिकारी लगातार बाजारों में संपर्क कर रहे हैं। अब कैट की टीम के पदाधिकारी अलग-अलग व्यापारी संगठनों को भी एक मंच पर लाने की तैयारी कर रहे थे ताकि भारत बंद में समर्थन हासिल किया जा सके। इसके चलते ही मंगलवार को मर्चेंट चैंबर में कार्यक्रम आयोजित गया। इस कार्यक्रम के लिए जो प्रचार किया जा रहा है,उसमें इस बात का उल्लेख किया जा रहा है कि कानपुर नगर के सभी व्यापार मंडलों की संयुक्त जीएसटी संघर्ष समिति के तत्वावधान में यह बंदी हो रही है।

 

कैट के राष्ट्रीय सचिव पंकज अरोरा, प्रदेश महामंत्री अशोक बाजपेयी के नेतृत्व में घूम रही टोली के निशाने पर सबसे पहले थोक बाजार हैं। इसीलिए कानपुर कपड़ा कमेटी,नौघड़ा कपडा कमेटी,लोहा बाजार,हटिया,कुली बाजार,लाटूश रोड,मिल मशीनरी बाजार,मनीराम बगिया में पहले ही राउंड में संपर्क किया जा चुका है। इसके साथ ही व्यापारी संगठनों को भी साथ में जोड़ने के लिए व्यापार मंडल के पदाधिकारियों से भी मुलाकात की जा रही है। लगभग सभी व्यापार मंडलों ने फिलहाल इस बंदी के लिए समर्थन दिया है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.