छोटी सी गल्ती से मतदान केन्द्र मे गडबडी हो सकती:वैश्य 76 मास्टर ट्रेनर्स को कलेक्ट्रेट में ईवीएम व वीवीपैट संचालन का दिया गया प्रशिक्षण

0 11

हमीरपुर : आगामी विधानसभा चुनाव को लेकर तैयारियां तेज होती जा रही हैं। आज मास्टर ट्रेनरों का प्रथम प्रशिक्षण कार्यक्रम कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित किया गया, जिसमें प्रशिक्षक व जिला प्रशिक्षण अधिकारी ने चुनाव के मास्टर ट्रेनरों को प्रशिक्षण दिया। इस दौरान मास्टर ट्रेनरों को विधानसभा चुनाव के नियमों, ईवीएम, वीवीपैट के संचालन सहित अन्य महत्वपूर्ण व सामान्य चीजों का गहन प्रशिक्षण दिया गया।

मास्टर ट्रेनरों के प्रशिक्षण कार्यक्रम में मुख्य विकास अधिकारी कमलेश कुमार वैश्य ने कहा कि चुनाव के दौरान एक छोटी सी गलती या चूक या विधि या नियमों के गलत प्रयोग या मशीन के विभिन्न कार्यो का अपर्याप्त ज्ञान आपके मतदान केंद्र पर होने वाले मतदान को प्रभावित कर सकता है। इसलिए सभी मास्टर ट्रेनर बेहद संजीदगी के साथ प्रशिक्षण लें क्योंकि वे ही बतौर मास्टर ट्रेनर अन्य पोलिंग पसर्नल्स को निर्वाचन की ट्रेनिंग देगें। आज कुल 76 मास्टर ट्रेनर को प्रशिक्षण दिया गया।

वरिष्ठ प्रशिक्षक दिवाकर द्वारा प्रशिक्षण के दौरान ईवीएम व वीवीपैट के फुल आपरेशन की एक-एक जानकारियां दी गई तथा उन्हें बारीकियों से अवगत कराया गया। ट्रेनर्स द्वारा मास्टर ट्रेनर्स का माॅक पोल से लेकर मतदान समाप्ति तथा ई0वी0एम क्लोजिंग आदि की स्टेप बाई स्टेप जानकारी दी गई। प्रशिक्षकों द्वारा बताया गया कि मतपत्र इकाइयों और ड्रॉप बॉक्स सहित प्रिंटर को उनके नियत मतदान कोष्ठों में ही रखें। मत पत्र इकाईयों और ड्राप बाक्स सहित प्रिंटर को उनकी नियत नियंत्रण इकाईयों से जोड़े और पाॅवर का स्वीच आन करें।

एक मतपत्र में अधिकतम 16 बटन होते है, अंतिम पैनल नोटा के लिए होता है। मतदान शुरु होने के नियत समय से पूर्व उपस्थित अभ्यर्थियों और अभिकर्ताओं के सामने मतदान मशीन का प्रदर्शन करें। मतदान टुकड़ी के किसी भी सदस्य या मतदान अभिकर्ता को मतदान केंद्र से इधर उधर घुमने न दें तथा उन्हें निर्धारित स्थान पर ही बैठाएं। प्रत्येक अभ्यर्थी के सामने नीला बटन होता है। किसी भी बटन को दबाकर मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग कर सकते है।

प्रत्येक बटन के साथ एक लैंप होता है। मत रिकार्ड होने के बाद लैंप लाल रंग का हो जाता है साथ ही एक बीप की आवाज सुनाई देती है। इसके साथ ही वीवीपैट पर मतदाता अपने द्वारा अपने मनपसंद प्रत्याशी को दिए गए मतदान की पुष्टि भी कर सकता है। इस दौरान जिला विकास अधिकारी विकास सहित स्टेट ट्रेनर व अन्य मौजूद रहे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.