गोवा में पहली बार AAP की एंट्री : 2 सीटें जीती

0 28

गोवा : देश के सबसे छोटे राज्य गोवा में BJP का सरकार बनाना लगभग तय है। वह 20 सीटें जीती है और बहुमत से महज एक सीट पीछे रही है। उसे निर्दलियों का समर्थन भी मिल गया है। उधर, आम आदमी पार्टी (AAP) को पहली बार विधानसभा में एंट्री मिली है। उसके दो उम्मीदवार जीत गए हैं, लेकिन पार्टी के मुखिया अरविंद केजरीवाल ने जिस अमित पालेकर को CM का चेहरा बनाया था वे ही चुनाव हार गए हैं।

BJP के दोनों डिप्टी CM हारे। मनोहर अजगांवकर को कांग्रेस के दिगंबर कामत ने करीब 6000 वोटों से और चंद्रकांत केवलेकर को कांग्रेस के एल्टोन डिकोस्टा ने करीब 3000 वोटों से हराया चुनाव के तीन महीने पहले गोवा पहुंची TMC सभी 26 सीटों पर हारी। उसे सिर्फ 5.21% वोट मिले। उसकी सहयोगी MGP को 7.72% वोट मिले।

लेंगुट में कांग्रेस के माइकल लोबो और डबोलिम से BJP के मॉविन एच गोडिन्हो जीते सांकेलिम से CM प्रमोद सावंत 666 वोटों से जीते। उन्होंने कांग्रेस के धर्मेश सगलानी को हराया गोवा फॉरवर्ड पार्टी के प्रमुख विजय सरदेसाई फटोरदा सीट से जीते पिता BJP को सत्ता में लाए, बेटा निर्दलीय लड़कर हार गया

पणजी सीट से BJP के दिवंगत नेता और राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर के बेटे उत्पल पर्रिकर मैदान में थे। बीजेपी ने टिकट नहीं दिया तो वे निर्दलीय ही मैदान में उतर गए। उनके सामने BJP के अतानासियो मोनसेराटे और कांग्रेस के एल्विस गोम्स थे। उत्पल की वजह से ही अब यह मुकाबला त्रिकोणीय हो गया, लेकिन मोनसेराटे ने उन्हें 710 वोटों से हरा दिया।

पिछली बार BJP ने कांग्रेस से 4 सीटें कम लाकर भी सरकार बना ली थी गोवा में पिछली बार त्रिशंकु विधानसभा थी। कांग्रेस को 17 और भाजपा को 13 सीटें मिली थीं। लगभग तय था कि कांग्रेस निर्दलियों की मदद से सरकार बना लेगी, लेकिन भाजपा ने पहले दावा कर दिया और सत्ता हथियाने में कामयाब हो गई।

इस बार 301 उम्मीदवारों ने यहां चुनाव लड़ा। इनमें BJP के 40, कांग्रेस के 37, AAP के 39, TMC के 26, MGP के 13 और निर्दलीय 68 कैंडिडेट्स थे। 11.56 लाख वोटर्स ने इनकी हार-जीत का फैसला किया।

Leave A Reply

Your email address will not be published.