पुलिस लाइन स्थित अस्पताल में एडीजी के वैक्सीनेशन से हुआ शुभारंभ  

0 87

देर से मिली सूचना पर पुलिस कर्मी ड्यूटी पर निकल गए

कानपुर :  शहर में कोरोना वैक्सीन लगवाने की शुरुआत एएनएम मंजू यादव ने पुलिस लाइन स्थित पुलिस अस्पताल में एडीजी जय नारायण सिंह से हुई। वह पुलिस लाइन स्थित अस्पताल में गुरुवार सुबह 10:50 बजे पहुंचे थे। उनके साथ ही एसपी पश्चिम,एसपी ट्रैफिक और सीएमओ डॉ.अनिल मिश्रा भी आए। उसके बाद सभी अधिकारियों की मौजूदगी में गुरुवार सुबह 11:00 बजे कोरोना की कोविशील्ड वैक्सीन लगाई गई। सुबह से उत्साह से भरे फ्रंटलाइन वर्कर कोरोना की वैक्सीन लगवाने के लिए जिले के सभी 30 वैक्सीनेशन सेंटर पर पहुंचे। विलंब से सूचना मिलने की भी शिकायत रही।

पुलिस कर्मियों का किया उत्साहवर्धन

पुलिस अस्पताल में सुबह 11 बजे एडीजी को वैक्सीन लगवाने से शुरुआत हुई। उनके बाद दूसरे नंबर पर एसपी पश्चिम डॉ.अनिल कुमार,एसपी ट्रैफिक बसंत लाल और उनके बाद सिटी मजिस्ट्रेट हिमांशु गुप्ता को वैक्सीन लगाई गई। सभी अधिकारियों ने आधा घंटे तक आब्जर्वेशन कक्ष में डॉक्टरों की निगरानी में रहे। उसके बाद बाहर निकल कर पुलिस कर्मियों का भी उत्साहवर्धन भी किया। कहा कि वैक्सीन पूरी तरह सुरक्षित है। मैंने वैक्सीन लगवाई है, मुझे किसी तरह की दिक्कत नहीं है। आप सभी भी आगे आएं और वैक्सीन जरूर लगवाएं। यह आपकी सुरक्षा के लिए जरूरी है।

एसपी ट्रैफिक को सभी पुलिसकर्मियों को सूची बनवाने के दिए निर्देश   

 एडीजी ने कम संख्या में पुलिसकर्मियों को देख कर सवाल भी पूछे। बताया गया कि सूचना विलंब से मिल रही है। इस वजह से पुलिस कर्मी बाहर ड्यूटी पर निकल गए हैं। इस पर उन्होंने एसपी ट्रैफिक डॉ.बसंत लाल को सभी की पहले से सूची बनवाने के निर्देश दिए। कहा, पहले से उन्हें अवगत कराया जाए और उनका वैक्सीनेशन भी सुनिश्चित कराएं। जीएसवीएम मेडिकल कॉलेज में वैक्सीन लगवाने के लिए आए पुलिस कर्मियों की शिकायत की थी कि सुबह मैसेज मिला है। इस वजह से बड़ी संख्या में साथी बाहर निकल गए थे। अधिकतर पुलिसकर्मी अनवरगंज और नजीराबाद थाने के थे। यहां के छह बूथ  पर 498 फ्रंटलाइन वर्कर को वैक्सीन लगाई जानी थी।

Leave A Reply

Your email address will not be published.