सारी भूगर्भिक संपदाओं  का उपयोग बुंदेलखंड के विकास के  लिए के लिए किया जाए :पूर्व डी जी पी  सुलखान सिंह

0 12

फतेहपुर :  पूर्व प्रतिनिधि स्व.वी.पी.सिंह प्रधानमंत्री भारत सरकार एवं अध्यक्ष किसान मंच कुंवर अरुण सिंह एडवोकेट के निवास चंन्द्राचल भवन में उत्तर प्रदेश के  आए। और  विगत कई वर्षों से अस्वस्थ चल रहे कुंवर अरुण सिंह का हालचाल पूछा और परिवार के विषय में जानकारी लिया ।साथ ही सामाजिक चेतना के तहत उत्तर प्रदेश की कानून व्यवस्था और खासतौर से बुंदेलखंड की समस्या समस्याओं पर काफी चर्चा हुई और फतेहपुर और बांदा की कानून व्यवस्था पर भी चर्चा वर्तमान परिस्थितियों में उत्तर प्रदेश में जो विकास बुंदेलखंड क्षेत्र में होना चाहिए। वह बहुतायत ढंग से हो नहीं पाया सरकारी योजनाएं अपना पूर्ण रूप से परफॉर्मेंस नहीं दे पा रही है।

ऐसी परिस्थितियों में जब  बुंदेलखंड क्षेत्र में पानी की विकट समस्या है और सभी सरकारे  बुंदेलखंड क्षेत्र से वहां की अपार भू संपदा  का दोहन कर रही ।यदि इन सारी भूगर्भिक संपदाओं  का उपयोग बुंदेलखंड के विकास के  लिए के लिए किया जाए और नीतिगत फैसले लिए जाएं ।जिससे बुंदेलखंड का विकास पूरी तरह से हो सके। साथ ही बुंदेलखंड को एक नए राज्य के रूप में गठित करने  पर भी विचार किया गया ।यदि मध्य प्रदेश के कुछ जिले और उत्तर प्रदेश का संपूर्ण बुंदेलखंड क्षेत्र को लेकर एक नए राज्य का गठन किया जाए और बुंदेलखंड के लोगों की पूर्ण भागीदारी हो जिससे पूरे राज्य का संपूर्ण विकास पूर्ण मनोयोग से हो सके।

Leave A Reply

Your email address will not be published.