कारी मुश्ताक अहमदप्रतापगड़ी फाउंडेशन एवम सिल्वर जुबली अस्पताल के सहयोग से निशुल्क चिकित्सा शिविर लगाकर ऑल इंडिया पयामे इंसानियत फोरम ने दवाई वितरण किए

0 145

निशुल्क श्वास संबंधी जांच/नेत्र जांच/ ई सी जी जांच/शुगर जांच/ बी पी जांचें हुई

लखनऊ : ऑल इंडिया पयामे इंसानियत फोरम लखनऊ यूनिट ने मदरसा आलिया इरफानियाँ अकबरीगेट में एक निशुल्क विशाल चिकित्सा शिविर का आयोजन किया जहां तकरीबन 270 लोगों की नेत्र जांच,शुगर जांच,ईसीजी जांच , श्वास संबंधी जांच हुई,इस मौके पे जनरल फिजिशियन वा लेडी डॉक्टर भी मौजूद थे

जिसमें लोगों को निशुल्क दवाएं भी दी गई

इस मौके पर मौलाना अबुल कासिम नदवी ने कहा ऑल इंडिया पयाम इंसानियत फोरम जिसके संस्थापक हजरत अली मियां रहमतुल्लाह अलाई थे उनका मकसद यह था कि हम सेवा के जरिए से लोगों से करीब हो और सोए हुए इंसानियत को बेदार करें कि तमाम इंसान आदम की औलाद है पालनहार कहता है तमाम इंसान मेरा कुंबा है , अगर तुम किसी एक इंसान के साथ भी भलाई करोगे तो मैं समझूंगा पूरे इंसानियत के साथ तुमने भलाई की मदरसा बोर्ड के सदस्य जनाब कमर अली साहब ने कहा पयाम ए इन्सानियत फोरम के कार्यक्रम में शिरकत करके बहुत खुशी होती है , आप लोग जहां भी बुलाए मैं वहां आऊंगा

लखनऊ व्यापार मण्डल के उपाध्यक्ष वा चौक छेत्र के पार्षद समाजसेवी अनुराग मिश्रा साहब ने चिकित्सा शिविर का जाएज़ा लेते हुए कहा आप लोगों के तमाम कार्य सराहनीय हैं ,मानवता की सेवा ही सच्चा धर्म है मदरसा आलिया इरफानियाँ के प्रिंसिपल वा कारी मुश्ताक अहमद प्रतापगड़ी फाउंडेशन के संस्थापक इम्तियाज़ अहमद प्रतापगड़ी साहब ने अपनी खुशी का इजहार करते हुए कहा आप लोगों के काम को मैं देखता रहता हूं अस्पतालों के मरीजों की तीमारदारी हो या करोना काल में दवा वितरण हो लेकिन आज के प्रोग्राम को देख के हमारे नबी के दौर की याद ताज़ा होगई, हमारे नबी ने मस्जिद नबवी से रूहानी वा जिस्मानी दोनों के इलाज की तालीम दी है, और इसी मक़सद के तहत कारी मुश्ताक अहमद साहब ने इस मदरसा को शुरू किया था ये हमारे लिए खुशी की बात है के पयाम इन्सानियत फोरम के संस्थापक विश्व धर्म गुरु हज़रत मौलाना अली मियां ने ही इस मदरसा की बुनियाद रखी थी । लखनऊ व्यापार मण्डल के मंत्री विजय कुमार निर्वाण साहब ने कहा नेक लोगों की पहचान यही होती है के माहौल जैसा भी हो वो नेक काम करते रहते हैं

इस मौके पर समाज सेवी डाक्टर उमंग खन्ना साहब ने कहा इबादत की जान सेवा और खिदमत है यह भावना हर एक के दिल में नहीं होती अगर किसी में हे तो ऊपर वाला सेवा का मौका दे रहा है तो वो अपने को भाग्यशाली समझे । हाजी शिराज उद्दीन साहब ने तमाम डॉक्टर्स वा मेहमानों का शुक्रिया अदा करते हुए कहा के आप लोगों की मदद से ही हम लोग इस तरह के नेक काम कर पाते हैं, इस तरह के नेक कामों का सिला अल्लाह के सिवा कोई नहीं दे सकता, इस मौके पर कारी इम्तियाज़ अहमद साहब वा जनाब एजाज़ प्रतापगड़ी साहब ने आए हुए तमाम महमानो का शाल उड़ा के इस्तेकबाल किया और डाक्टर की टीम को एक एक पौधा दे कर शुक्रिया अदा किया। नेत्र के स्पेशल डॉक्टर सैयद शरिक साहब अपनी पूरी टीम के साथ दवाइयों के साथ मौजूद थे

फिजियोथैरेपिस्ट डॉक्टर महमूद साहब डॉक्टर जीशान साहब और जनरल फिजिशियन डॉक्टर आदिल सिद्दीकी,डॉ मोहम्मद तौसीफ डॉ इमरान डॉक्टर गुंचा खान डॉक्टर सना खान रियाजुल हक की टीम ईसीजी मशीन के साथ मौजूद थी इन तमाम लोगों ने अपना कीमती समय देकर मरीजों को दवा दी, इस मौके पर हाजी वसी उद्दीन,सैफ साहब,सलमान , समी उद्दीन, राहुल फार्मासिस्ट शाजेब मलिक मोहम्मद जैद शकील अहमद मिर्जा इसरार हुसैन मोहम्मद अनीस मोहम्मद नियाज मोहम्मद हनीफ मोहम्मद निहाल असद मदनी और आदि मौजूद थे

Leave A Reply

Your email address will not be published.