विभागाध्यक्ष से नाराज लोक निर्माण विभाग कार्मिकों का कार्यबहिष्कार धरने देकर आमसभा में दिए बड़े आन्दोलन के संकेत

0 20

लखनऊ : लोक निर्माण विभाग संयुक्त कर्मचारी वेलफेयर एसोसिएशन के बैनर तले आज लोक निर्माण कर्मचारियों ने सामूहिक कार्य बहिष्कार एवं आम सभा का आयोजन किया। इसकी अध्यक्षता एसोसिएशन के अध्यक्ष भारत सिंह यादव संचालन महामंत्री रामराज दुबे ने करते हुए बताया कि लगातार कर्मचारी संवर्ग के मांगों और पत्रों की अनदेखी, समस्याओं के निराकरण के लिए शासन के आदेश के अनुसार विभागाध्यक्ष द्वारा मान्यताप्राप्त कार्मिक संघों से वार्ता न करने से नाराज एसोसिएशन के समस्त घटक संघं यूपी पीडब्लूडी टेक्नीकल असिस्टेन्ट एसोसिएशन, मिनिस्टीरियल एसोसिएशन कार्यालय प्रमुख अभियंता/क्षेत्रीय मुख्य अभियंता कार्यालय, यूपीपीडब्लूडी सर्किल आफिसेस मिनिस्टीरियल एशोसिएशन, पीडब्लूडी नियमित वर्कचार्ज कर्मचारी संघ, राजकीय वाहन चालक संघ, उत्तर प्रदेश चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी संघ, उ.प्र. लोक निर्माण विभाग मिनिस्टिीरियल एसोसिएशन शामिल रहे। इस दौरान सभा को सम्बोधित करते हुए एसोसिएशन के वरिष्ठ उपाध्यक्ष वीरेन्द्र कुमार ने कहा कि अगर 15 दिनों के अन्दर संगठनों की समस्याओं पर वार्ता कर निर्णय नही लिया जाता तो एसोसिएशन के बैनर तले प्रान्तीय आन्दोलन शुरू कर दिया जाएगा।

आमसभा को सम्बोधित करते हुए एसोसिएशन के अध्यक्ष भारत सिंह यादव संचालक महामंत्री रामराज दुबे ने बताया कि विभागीय संगठनों की मुख्य मांगों में चतुर्थ श्रेणी की सीधी भर्ती कराने तथा आउट सोर्सिग से जैम पोर्टल व्यवस्था समाप्त कर उन्हें विभागीय संविदा पर न्यूनतम 21 हजार प्रतिमाह वेतन देने, समस्त विभागीय दैनिक वेतन वर्कचार्ज से नियमित किए गए कर्मचारियों को पूर्व में की गई सेवाओं को जोड़कर पुरानी पेंशन एवं गेच्युटी तथा वेतन संरक्षण दिए जाने की मांग रखी गई है। इसके अलावा फील्ड कर्मचारियों की दस वर्षो से लम्बित सेवानियमावली बनाए जाने, मेट, वर्क एजेन्ट, सुपरवाइजर, अमीन की प्रदेश स्तरीय जेष्ठता सूची में तत्काल प्रकाशित कराये जाने की मांग रखी गई है। यूपीपीडब्लूडी  सक्र्रिल आफिसेस मिनिस्ट्रीरियल एशोसिएशन के सुनील कुमार यादव, विजय शंकर मिश्र और जय प्रकाश तिवारी ने अपने सम्बोधन में कहा कि शासनादेश के अनुसार डिप्लोमा होल्डर की लम्बित पाच प्रतिशत पदोन्नति प्रशासनिक अधिकारियों को राजपत्रित प्रतिष्ठा पत्र सहित 12 सूत्रीय मांगों पर विभागाध्यक्ष लम्बे समय से चुप्पी साधे है।

पीडब्लूडी नियमित वर्कचाज कर्मचारी संघ के महामंत्री शैलेन्द्र कुमार शुक्ला ने बताया कि विभाग में कार्यरत दैनिक वेतन भोगी कार्यप्रभारित कर्मचारियों का रिक्त पदो पर समयोजन जैसी दस सूत्रीय मांगें लम्बित है।राजकीय वाहन चालक संघ की तरफ से शिवकुमार यादव और सुभाष मिश्रा ने छोटी गाडियों को खरीदे जाने, चालकों की भर्ती, विभागीय मशीनों की शतप्रतिशत उपयोगिता सहित 11 सूत्रीय मांग पत्र पर लम्बे अरसे से विचार न किये जाने पर संवर्ग में रोष बढ़ने की जानकारी दीं। टेक्निकल असिस्टेन्ट्स एसोसिएशन के राम सुरेश सिंह, सतीाश् चन्द्र और विनोद कुमार ने अवर अभियंता प्राविधिक के 10 प्रतिशत पदोन्नति सहित तीन सूत्रीय मांग पर चर्चा करते हुए मांगों के निस्तारण की मांग रखी।

मिनिस्टीरियल एसोसिएशन कार्यालय प्रमुख अभियंता क्षेत्रीय मुख्य अभियंता की तरह से वीरेन्द्र कुमार, ओमप्रकाश पटेल और रामलखन सिंह ने चार वर्षो से लम्बित अवर अभियंता पद पदोन्नति सहित चार सूत्रीय मांगों पर विस्तार से चर्चा करते हुए एक वृहद और प्रान्त व्यापी आन्दोलन पर जोर दिया। चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी संघ की तरफ से हरिकेश यादव ने चतुर्थ की भर्ती और तत्काल संविदा भर्ती बंद कर रिक्त पदों पर नियमित भर्ती सहित चतुर्थ श्रेणी संवर्ग की छह मांगों विचार करने की मांग रखी। इस कार्य बहिष्कार कासमर्थन करते हुए लोक निर्माण विभाग मिनीस्टीरियल एसोसिएशन के पद्भनाभ त्रिवेदी और जेपी पाण्डेय ने कहा कि विभागाध्यक्ष द्वारा कर्मचारियों की मागों के नजर अन्दाज किया जा रहा है। किसी भी उत्पीडन की कार्यवाही पर एक साथ आन्दोलन में शामिल रहने का विचार रखा।

Leave A Reply

Your email address will not be published.