आक्रमण के लिए नहीं, बुरी नजर उठाने वालों के लिए बना रहे ब्रह्मोस मिसाइल : रक्षामंत्री राजनाथ सिंह

0 104

लखनऊ : रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने लखनऊ में रविवार को ब्रह्मोस मिसाइल यूनिट और रक्षा प्रौद्योगिकी एवं परीक्षण केंद्र की लैब का शिलान्यास किया। रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने आगे कहा कि अब दुनिया मान रही है कि व्यापार के लिए कोई भी राज्य अच्छा है तो वह उत्तरप्रदेश है। नए भारत की नींव अटल बिहारी वाजपेयी ने रखी थी। अब उसका निर्माण प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कर रहे हैं। अटल बिहारी ने दुनिया के विरोध के बावजूद पोखरण में परमाणु परीक्षण करके अपनी शक्ति का परिचय दिया था

भारत अब हथियार का आयातक देश नहीं,निर्यातक देश बनेगा। सरकार इस तरफ तेजी से कार्य कर रही है। कुछ दिन पहले रूस, फ्रांस को हमने उनके माध्यम से दुनिया को संदेश दे दिया कि आओ मेक फ़ॉर इंडिया बनाओ। ब्रह्मोस का नाम ब्रह्मपुत्र नदी के नाम से निकला। उससे ब्रह्म बना और रूस की नदी मॉस्कवा से मोस ले लिया गया। उस तरह ब्रम्होस नाम पड़ा

इससे पहले सीएम योगी ने कहा कि रक्षामंत्री जी उन्हीं की कर्मभूमि पर स्वागत अभिनन्दन। प्रदेश में पहले डिफेंस मैन्युफैक्चरिंग की घोषणा की गई, फिर डिफेंस एक्सपो का कार्यक्रम हुआ। इसके लिए रक्षामंत्री और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का धन्यवाद। पहले जिस डिफेंस कॉरिडोर की घोषणा हुई थी,उस दिशा में हमारे प्रदेश के सभी छह नोड में कार्य शुरू हो गए हैं। 19 नवम्बर को ही प्रधानमंत्री ने झांसी में भारत डायनामिक्स यूनीट का शिलान्यास किया था ,आज यहां ब्रह्मोस के लिए रक्षामंत्री शिलान्यास कर रहे हैं। भारत दुनिया मे मैत्रीपूर्ण और करुणा का संदेश देने वाला देश है। लेकिन इसका मतलब यह नही की हमारे देश की सुरक्षा पर आंच आने देने की छूट देंगे, ऐसा नहीं है ये नया भारत है। यह किसी को छेड़ता नहीं है लेकिन कोई छेड़ता है तो छोड़ता भी नहीं है। आज का ये कार्यक्रम हमारे 6 डिफेंस कॉरिडोर के लखनऊ नोड के अंतर्गत हो रहा है

Leave A Reply

Your email address will not be published.