विकास कार्यो को समय पर पूर्ण करायें और योजनाओं के पात्र लाभार्थियों को लाभान्ति करायें:डी0एम0

शासन द्वारा निर्धारित लक्ष्य के अनुरूप विद्युत वसूली सुनिश्चित की जाये:- मंगला प्रसाद सिंह

0 7

सप्लाई इंस्पेक्टर एवं कोटेदारों के माध्यम से कार्ड धारकों के शतप्रतिशत आयुष्मान कार्ड बनवायेंः- सिंह
अस्पतालों में दलाली करने वालें लोगों पर एफआईआर दर्ज कराते हुए कड़ी कार्यवाही करायें:- डी0एम0

हरदोई।  सरकार की 37 प्राथमिताओं वाले विकास कार्यो की समीक्षा बैठक जिलाधिकारी मंगला प्रसाद सिंह की अध्यक्षता में विकास भवन के स्वर्ण जयंती सभागार में आहूत की गयी। बैठक में सर्व प्रथम विद्युत विभाग की समीक्षा में स्वास्थ्य, पंचायत, ग्राम विकास, पीडब्लूडी, शिक्षा आदि विभागों पर बकाया विद्युत भुगतान के सम्बन्ध में जिलाधिकारी ने विद्युत विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिये कि सरकारी विभागों के अधिकारियों से समन्वय बनाकर बकाया विद्युत बिलों का भुगतान कराये और शासन द्वारा निर्धारित लक्ष्य के अनुरूप विद्युत वसूली सुनिश्चित करें।
स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा में आयुष्मान कार्ड बनने, आयुष्मान कार्ड के मरीजों का अस्पतालों में कम पंजीकरण एवं परिवार नियोजन की धीमी प्रगति पर नाराजगी व्यक्त करते हुए जिलाधिकारी ने सीएमओ को निर्देश दिये कि सभी लाभप्रद योजनाओं में प्रगति कराये। उन्होने जिला पूर्ति अधिकारी को निर्देश दिये सप्लाई इंस्पेक्टर एवं कोटेदारों के माध्यम से पात्र कार्ड धारकों के शतप्रतिशत आयुष्मान कार्ड बनवायें और सभी पत्र-व्यवहार कोटेदारों की ई-मेल आईडी पर करायें। समीक्षा बैठक में समाज कल्याण, अल्पसंख्यक कल्याण तथा पिछड़ा वर्ग कल्याण विभाग में दशमोत्तर छात्रवृत्ति पंजीकरण की धीमी प्रगति पर डीएम ने संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिये कि पंजीकरण का समय पर पूर्ण करायें।
बैठक में पीडब्लूडी विभाग की समीक्षा करते हुए सिंह न अधिकारियों को निर्देश दिये कि नव निर्मित एवं अन्य स्वीकृत सड़कों का निर्माण शासन द्वारा निर्धारित मानक के अनुरूप गुणवत्ता समय पर पूर्ण कराने के साथ गड्ढ़ा मुक्त सड़को की आख्या हरदोई पोर्टल पर अपटेड करायें। जल निगम की समीक्षा में जिलाधिकारी ने अधिशासी अभियंता जल निगम को निर्देश दिये कि शेष ग्रामीण पेयजल परियोजनाओं को समय पर पूर्ण कराने के साथ ग्रामीणों के घरों में अधिक से अधिक कनेक्शन भी करायें। मत्स्य विभाग की समीक्षा में जिलाधिकारी ने सहायक निदेशक मत्स्य को निर्देश दिये कि तालाबों के आवंटन के समय निर्धारित कर दिया जाये कि तालाब में मछली पालन होगा या सिंघाड़ा लगाया जायेगा। अमृत योजना के तहत सीवर कार्य के संबंध में जिलाधिकारी ने कहा कि सीवर एवं पार्क निर्माण का निरीक्षण किया जायेगा। गौशालाओं में भूसा के भुगतान के संबंध में जिलाधिकारी ने निर्देश दिये कि भूसा का भुगतान समय पर किया जाये और निराश्रित पशुओं को गौशालाओं में पहुंचायें।
समीक्षा बैठक में जिलाधिकारी ने मुख्य चिकित्सा अधिकारी को निर्देश दिये कि सभी एमओआईसी को निर्देशित करें कि छोटी-छोटी बीमारी वाले गरीब मरीजों को लखनऊ रेफर न करें बल्कि उन मरीजों को अच्छी सुविधा के लिए 100 बेड अस्पताल में भर्ती करायें। उन्होने कहा कि सरकारी अस्पतालों से निजी अस्पतालों में आयुष्मान कार्ड धारकों एवं प्रसव वाली महिलाओं को ले जाने वाली आशाओं को चिन्हित करें और उनके साथ-साथ अस्पतालों में दलाली करने वालें लोगों पर एफआईआर दर्ज कराते हुए कड़ी कार्यवाही करायें। बैठक में जिलाधिकारी ने समस्त संबंधित विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिये कि सरकार की प्राथमिकता वाले विकास कार्यो को समय पर पूर्ण करायें और योजनाओं के पात्र लाभार्थियों को लाभान्ति करायें। बैठक में मुख्य चिकित्सा अधिकारी राजेश कुमार तिवारी, अपर जिलाधिकारी वन्दना त्रिवेदी, पीडी, डीडी कृषि, जिला विकास अधिकारी, जिला कृषि अधिकारी, अधिशासी अभियंता पीडब्लूडी, शारदा नहर, विद्युत, जल निगम, जिला समाज कल्याण, जिला अल्पसंख्यक, जिला पिछड़ा वर्ग कल्याण अधिकारी सहित अन्य जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित रहें।

Leave A Reply

Your email address will not be published.