लोकतंत्र हमारे देश का गौरव है: मौलाना सय्यद मुनव्वर हुसैन रिज़वी

0 36

लखनऊ: गणतंत्र दिवस के अवसर पर गोलागंज स्थित तनज़ीमुल मकातिब परिसर में एक समारोह का आयोजन किया गया। जिसकी शुरुआत मौलवी अली मोहम्मद मारुफी ने पवित्र क़ुरआन की तिलावत से किया।उसके बाद जामिया इमामिया के प्रिंसपल मौलाना सय्यद मुनव्वर हुसैन रिज़वी ने झंडा रोहण किया और मौलवी कौनैन रज़ा, मौलवी समर मेहदी, मौलवी मीसम रज़ा मूसवी ने राष्ट्रगान गाया उसके बाद मौलवी मोहम्मद फहीम, मौलवी मोहम्मद ताहा और मौलवी सय्यद मोहम्मद हसनैन ने पूर्व के कवि अल्लामा इकबाल की प्रसिद्ध कविता (सारे जहां से अच्छा हिंदुस्तान हमारा) पढ़ी।

जामिया इमामिया के प्रिंसपल मौलाना सय्यद मुनव्वर हुसैन रिज़वी ने कहा कि हमारा प्यारा देश भारत दुनिया का सबसे बड़ा लोकतंत्र है और यही लोकतंत्र इसकी सुंदरता और गौरव है। यहां चुनाव होते हैं चुनाव के दौरान तमाम प्रतिद्वंद्विता के बावजूद जो भी पार्टी जीतती है सभी पार्टियां उसे बधाई देती हैं जो हमारे देश के लोकतंत्र, भाईचारे और गंगा-जमनी सभ्यता का जीता जागता सबूत है।

जामिया इमामिया के अध्यापक मौलाना सय्यद अली हाशिम आबिदी, मौलाना मंज़र अली आरफी और मौलाना सय्यद मुमताज़ जाफर नकवी मुरब्बी ए आला जामिया इमामिया ने भी संबोधित किया। जामिया इमामिया के अध्यापकों और छात्रों के अलावा संस्था तनज़ीमुल मकातिब के खादेमीन और कार्यकर्ता भी उत्सव में शामिल हुए।

Leave A Reply

Your email address will not be published.