बच्चे के अच्छे भविष्य के लिये डाॅयल करें 1098: मनीष सिंह

0 106

 

कम्पोजिट विद्यालय पैसार देहात में आयोजित हुआ जागरुकता कार्यक्रम

बाराबंकी :  किसी महिला या बालिका के ऊपर अत्याचार हो रहा हो तो तुरंत अपने परिवार में या सगे सम्बन्धी व अपने अध्यापक एवं टोल फ्री नम्बरों पर फोन कर सम्पर्क करे। यही बचाव का सही तरीका है। इसलिए चुप रहने के बजाय उसका डटकर सामना करें। उक्त उद्गार वृहस्पविार को विकास खण्ड बंकी के कम्पोजिट विद्यालय पैसार देहात में चाइल्ड लाइन 1098 द्वारा आयोजित जागरुकता कार्यक्रम में जिला समन्वयक जियालाल कनौजिया ने बच्चों व मौजूद अभिभावकों को जागरुक करते हुए कही तथा नारी सुरक्षा, नारी सम्मान पर भी जागरुक किया

वहीं चाइल्ड लाइन सदस्य मनीष सिंह ने जागरुक करते हुए कहा कि कोई बच्चा बीमार व अकेला हो, किसी बच्चे को आश्रय की जरुरत हो, कोई बच्चा छोड़ दिया गया हो या गुम हो गया हो, किसी बच्चे का उत्पीड़न या शोषण हो रहा हो, जब बाल विवाह हो रहा हो या होने वाला हो, किसी बच्चे को पोषक आहार की जरुरत हो तो उस बच्चे की मद्द के लिये चाइल्ड लाइन 1098 डायल करें। चाइल्ड लाइन 1098 आपातकालीन फोन सेवा है

आपकों कहीं कोई बच्चा बालश्रम व भिक्षावृत्ति में लिप्त दिखे तो उस बच्चे के अच्छे भविष्य के लिये चाइल्ड लाइन को सूचित करें। आपका एक फोन उस बच्चे का भविष्य बना सकता है। तथा चाइल्ड लाइन सदस्य जीनत बेबी ने गुड टच व बैड टच विषय पर जागरुक किया। सदस्य अनिल यादव ने टोल फ्री नम्बर 101, 102, 108, 112, 181, 1090, 1098 के बारे में विस्तर से जानकारी दिया। वहीं प्रधानाध्यापिका लीना वर्मा ने कार्यक्रम की सराहना करते हुए मुसीबत में फंसे बच्चों की मद्द के लिये टोल फ्री नम्बरों से मद्द लेने के लिये प्रेरित किया। इस मौके पर अध्यापिका रुचि वर्मा, अरविन्द कुमार, रिचा सिंह, विनीता जायसवाल, रिंकी, अमिता, कंचन सहित बच्चे व अभिभावक मौजूद रहे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.