कांग्रेस की हार के बाद G 23 की डिनर पॉलिटिक्स:आजाद के घर G23 के नेताओं की बड़ी बैठक

0 20

पांच राज्यों में करारी हार के बाद कांग्रेस के भीतर असंतुष्ट नेताओं की संख्या बढ़ती जा रही है। गुलाम नबी आजाद के घर पर चल रही G-23 की बैठक में गांधी परिवार के खिलाफ बागी रुख अख्तियार करने वाले कपिल सिब्बल, आनंद शर्मा, मनीष तिवारी, शशि थरूर, अखिलेश प्रसाद सिंह, भूपिंदर सिंह हुड्डा और पृथ्वीराज चौहान शामिल हैं।

इसके अलावा, वरिष्ठ नेता मणिशंकर अय्यर, पी.जे कुरियन, संदीप दीक्षित भी बैठक में शामिल होने के लिए पहुंचे हैं। ये नेता पहली बार G-23 की मीटिंग में पहुंचे हैं।

कांग्रेस में बदलाव की मांग को लेकर यह पहली बड़ी बैठक मानी जा रही है। बैठक में यूपी से राज बब्बर, अखिलेश प्रताप सिंह, पंजाब से मनीष तिवारी, राजेंद्र कौर भट्टकल, केरल से शशि थरुर, मणिशंकर अय्यर, पीजे कुरियन शामिल हैं।

यह बैठक पहले कपिल सिब्बल के आवास पर होनी थी, लेकिन गांधी परिवार के खिलाफ दिए गए उनके बयान के बाद लोकेशन बदला गया। अब यह मीटिंग सीनियर नेता गुलाम नबी आजाद के घर पर चल रही है।

बघेल ने कहा- कांग्रेस को कमजोर करने में जुटे हैं नेता

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि CWC की बैठक में सभी ने सोनिया जी पर पूरा विश्वास जताया है। हम सब सोनिया जी, राहुल जी और प्रियंका जी के साथ हैं।

जो लोग इस तरह के बयान दे रहे हैं वे कांग्रेस को कमजोर करने के लिए कह रहे हैं। यह बेहद दुर्भाग्यपूर्ण बात है कि चुनाव के समय उनका एक बयान नहीं आता, लेकिन चुनाव के बाद वे बयानबाजी शुरू कर देते हैं। इसकी मैं निंदा करता हूं।

खड़गे बोले- सिब्बल वकील, नेता नहीं

सिब्बल के घर डिनर पार्टी आयोजन को लेकर राज्यसभा में नेता प्रतिपक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने निशाना साधा है। खड़गे ने कहा कि सिब्बल एक अच्छे वकील हो सकते हैं, लेकिन वे नेता नहीं हैं। उन्होंने आज तक कांग्रेस को एक गांव में भी मजबूत नहीं बनाया है। डिनर आयोजन से सोनिया गांधी पर कोई असर नहीं पड़ने वाला है।

सिब्बल की मांग- गांधी परिवार छोड़े कांग्रेस में पद

कांग्रेस की हार के बाद एक इंटरव्यू में सिब्बल ने कहा कि राहुल गांधी डीफेक्टो प्रेसिडेंट रहे हैं। पंजाब में CM बनाने में उन्होंने फैसला किया था। आप बताइए किस हैसियत से उन्होंने यह डिसीजन लिया था? सिब्बल ने कहा कि हमारी मांग है कि घर की कांग्रेस के बजाय सबकी कांग्रेस हो। गांधी परिवार कांग्रेस की कमान छोड़े। मैं इसके लिए आखिरी सांसें तक लड़ूंगा।

गुलाम नबी आजाद के घर पर हो चुकी है मीटिंग

चुनाव रिजल्ट आने के बाद कांग्रेस के भीतर G-23 गुट की यह दूसरी बैठक है। पिछले हफ्ते शुक्रवार को गुलाम नबी आजाद के घर पर बैठक हुई थी। इसमें मनीष तिवारी, आनंद शर्मा और भूपिंदर सिंह हुड्डा पहुंचे थे, वहीं कई नेता वर्चुअली इस मीटिंग में शामिल हुए थे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.