डीएम की अध्यक्षता में जिला स्वास्थ्य समिति की बैठक सम्पन्न

0 35

बहराइच : जिलाधिकारी डॉ दिनेश चन्द्र ने मंगलवार को देर शाम कलेेक्ट्रेट सभागार में आयोजित जिला स्वास्थ्य समिति बैठक की अध्यक्षता करते हुए ग्राम स्वास्थ्य, पोषण दिवस की समीक्षा में पाया कि मिहींपुरवा आदि ब्लाकों में सत्र दिवस के दौरान एएनएम द्वारा खून की जांच, ब्लेडप्रेसर आदि की जांच नहीं किया जा रहा है। इस स्थिति पर कड़ी नाराजगी व्यक्त करते हुए निर्देश दिया कि प्रत्येक सत्र पर समस्त लाजिस्टिक की उपलब्धता सुनिश्चित कराते हुए समस्त जांचों की कार्यवाही की जाय। प्रत्येक सत्र पर महिलाओं की जांच हेतु स्क्रीन पर्दा लगाया जाय। साथ ही छूटे हुए सत्रों को अन्य दिवसों में आयोजित कर टीकाकरण की प्रगति में सुधार लाया जाय। ई-कवच पोर्टल पर सैम-मैम बच्चों की सूचना शतप्रतिशत अपलोड किया जाय। गर्भवती, धात्री महिलाओं को कोविड का टीका भी लगवाया जाय। जिससे गर्भवती मां व गर्भ में पल रहे शिशु की कोरोना के संभावित संक्रमण से सुरक्षा प्रदान हो सके।

आयुष्मान भारत योजना की समीक्षा के दौरान डीएचईआईओ बृजेश सिंह ने बताया कि अब तक जनपद के 03 लाख 51 हजार लाभार्थियों का गोल्डेन कार्ड बनाया गया कि जिसमें 25 हजार अन्त्योदय कार्ड धारक है। इस सम्बन्ध में जिलाधिकारी द्वारा निर्देश दिये गये कि माइक्रोप्लान बनाकर कामन सर्विस के माध्यम से कोटेदारों का सहयोग प्राप्त कर अधिक से अधिक पात्र लोगों का गोल्डेन कार्ड बनाया जाय। गृह आधारित जवजात शिशु देख-भाल कार्यक्रम की समीक्षा के दौरान जिलाधिकारी द्वारा निर्देश दिये गये कि 02 किग्रा0 से कम वजन के बच्चों का ट्रैकिंग व फालोअप नियमित रूप से किया जाय। उन्होंने यह भी निर्देश दिया कि प्रधानमंत्री मातृत्व वन्दना योजना के लाभार्थियों का समय से भुगतान किया जाय। जिलाधिकारी ने कोविड टीकाकरण की समीक्षा में मिहीपुरवा, फखरपुर, बलहा की प्रगति अन्य ब्लाकों की अपेक्षा कम पाये जाने पर नाराजगी व्यक्त करते हुए टीकाकरण में सुधार लाये जाने के निर्देश दिये गये। बैठक के दौरान अन्य स्वास्थ्य योजनाओं एवं कार्यक्रमों की समीक्षा कर आवश्यक दिशा-निर्देश दिये गये।

इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी कविता मीना, जिला विकास अधिकारी राजेश कुमार मिश्र, जिला विद्यालय निरीक्षक डा चन्द्रपाल, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी अजय कुमार, जिला कार्यक्रम अधिकारी जी0डी0 यादव, अपर मुख्य चिकित्साधिकारी डा. अजीत चन्द्रा सहित प्रभारी चिकित्साधिकारी, बाल विकास परियोजना अधिकारी व अन्य सम्बन्धित मौजूद रहे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.