इस्लामाबाद में भारतीय दूतावास के अंदर दिखा ड्रोन

0 201

पाकिस्तान : के इस्लामाबाद में भारतीय दूतावास के अंदर एक ड्रोन मिलने की खबर है। हालांकि भारत की ओर से इस मामले पर कड़ी आपत्ति जताई गई है। भारत ने सुरक्षा उल्लंघन को लेकर विरोध दर्ज किया है। बता दें कि भारतीय दूतावास के ऊपर ड्रोन पिछले हफ्ते जम्मू कश्मीर में एक वायुसेना अड्डे ड्रोन हमले को लेकर बढ़े तनाव के बीच आया है भारत की ओर से कड़ी आपत्ति जताने के बाद भी पाकिस्तान की ओर से इस पर कोई बयान नहीं आया है। वहीं जम्मू कश्मीर के अरनिया सेक्टर में अंतरराष्ट्रीय सीमा के पास सीमा सुरक्षा बल के जवानों ने आज सुबह करीब साढ़े चार बजे एक पाकिस्तानी ड्रोन को फायरिंग कर भगा दिया।  जवानों ने उस समय गोलीबारी की, जब ड्रोन अररिया सेक्टर में अंतरराष्ट्रीय सीमा पार करने की कोशिश कर रहा था। बता दें कि फायरिंग होते ही ड्रोन तुरंत वापस लौट गया था। सूत्रों की ओर से ऐसी जानकारी दी गई कि ड्रोन को इलाके की निगरानी करने के लिए भेजा था।

जम्मू-कश्मीर के डीजीपी ने कहा है कि जांच के दौरान यह देखा जाएगा कि ड्रोन सीमा पार से चलाए गए थे या सीमा के अंदर से। ऐसे संकेत हैं कि लश्कर-ए-तैयबा इसके पीछे है। क्योंकि उसने पहले भी ऐसी दर्जनों गतिविधियों को अंजाम दिया है। जिसमें हथियार और आईईडी गिराना शामिल हैं। डीजीपी ने कहा कि उसी रात (जम्मू एयरबेस पर हमले की) हमने ड्रोन की मदद से एक रेडीमेड आईईडी बरामद किया जो पाकिस्तान से आया था। पूछताछ और जांच के दौरान यह पाया गया कि लश्कर-ए-तैयबा ने इसकी साजिश रची थी। हम इस हमले से जुड़े अन्य पहलुओं की जांच कर रहे हैं। नरवाल क्षेत्र से पकड़े गए टीआरएफ के आतंकी नदीम उल हक का वायुसेना स्टेशन पर हुए हमले में हाथ होने का शक है। नदीम से मिली पांच किलो आईईडी जम्मू में ही दी गई थी। आईईडी को अलग-अलग लोकेशन में लगाकर धमाके करने थे। इससे पहले ही वह पकड़ा गया। सूत्रों का कहना है कि वायुसेना स्टेशन पर हुए हमले की जांच करने वाली एनआईए की टीम जल्द ही नदीम से पूछताछ कर सकती है। नदीम इस हमले की जानकारी दे सकता है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.