भीतरगांव पार्वो संक्रमण की चपेट में आने से आठ कुत्तों की मौत 

0 96

   

कानपुर : घाटमपुर के भीतरगांव विकास खंड क्षेत्र में सैकड़ों परिंदों के मरने के बाद अब पार्वो संक्रमण से कुत्तों के मरने का मामला सामने आया है। मौसम बदलने से घरेलू कुत्ते पार्वो वायरस की चपेट में आ रहे हैं। बिरहर गांव के मजरा क्योंटरा गांव में इस बीमारी की चपेट में आकर चार दिन में आठ कुत्तों की मौत हो चुकी है।

पशु चिकित्सक डॉ.सर्वेंद्र सचान ने बताया कि भीतरगांव विकास खंड क्षेत्र के रिंद नदी किनारे बसे क्योंटरा गांव मलगातार कुत्तों के मरने की सूचना मिल रही थी। बुधवार को गांव जाकर ग्रामीणों से बात कर कुत्तों के मरने की जानकारी ली गयी। उच्च अधिकारियों के आदेश पर दो मृत कुत्तों का पोस्टमार्टम किया गया।

दोनों मृत कुत्तों की आंत में संक्रमण पाया गया है। आंत सड़ने से पेट के अंदर खून की मात्रा मिली। मरने से पहले कई कुत्तों ने खून की उल्टियां भी की थीं। डॉ.सचान के मुताबिक पार्वो वायरस से बड़े जानवरों को कोई खतरा नहीं है, लेकिन छोटे जानवरों के लिए यह वायरस गंभीर खतरा पैदा कर सकता है। कुत्तों को खून की उल्टी होना शुरू होती हैं और मौत हो जाती है। बताया कि केवल क्योंटरा गांव में बीते चार दिन में आठ कुत्तों की मौत हुयी है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.