सावधान मजबूरी का फायदा उठा रहे हैं फर्जी मददगार 

0 104

दिल्ली  : देश के साथ-साथ दिल्ली में भी कोरोना की दूसरी लहर बेहद घातक साबित हो रही है। व्यवस्थाएं चौपट हो गई हैं क्योंकि कोराना के शिकार लोगों की संख्य इस बार बहुत ज्यादा है। बीमार लोगों की संख्या इतनी है कि अस्पताल और दवाइयां कम पड़ रही हैं। ऑक्सीजन को लेकर भी हाहाकार की स्थिति रही है। इन हालात का फायदा कुछ फर्जीवाड़ा करने वाले लोग उठाने की पूरी कोशिश कर रहे हैं। वे मदद के नाम पर लोगों को ठग रहे हैं। ऐसा इसलिए भी हो रहा है क्योंकि सोशल मीडिया पर मदद की गुहार बहुत लगाई जा रही है।  स्वास्थ्य पेशेवर रश्मि मेहरा को अपने व्हाट्स के माध्मय से एक नंबर मिला। नंबर उनके किसी जानकार ने दिया था। संदेश लिखा था- सबके लिए ऑक्सीजन सिलिंडर उपलब्ध है। उसके बाद एक फोन नंबर लिखा था और रोहिणी के किसी धीरज का नाम। जरूरत पर कॉल का आग्रह भी किया गया था।

रश्मि ने वो नंबर अपने एक मित्र को दे दिया जिनके पिता और परिवार के लोग कोविड ग्रस्त थे। जाहिर है कि उन्हे ऑक्सीजन की दरकार थी। तब उस नंबर पर संपर्क किया गया और मोल-भाव करते बात तय हुई और उसके मुताबिक 10 हजार रुपए बतौर पेशगी भी दे दिए गए। लेकिन इसके बाद से ही वो शख्स गायब हो गया। फिर उस नंबर पर मैसेज जाने भी बंद हो गए। इसके बाद मामले की सूचना पुलिस की दी गई। रश्मि मेहरा के पास शायद यही अंतिम विकल्प था।

Leave A Reply

Your email address will not be published.