नौकरी का झांसा देकर रकम हड़पने पर बसपा नेता व उनके पुत्र के खिलाफ एफआईआर

0 121

संस्कृत महाविद्यालय में नौकरी लगवाने का दिया था झांसा

फतेहपुर : नौकरी का झांसा देकर बसपा नेता और उसके वकील बेटे खिलाफ रुपए हड़पने और जान से मारने की धमकी का मुकदमा दर्ज किया है। पुलिस मामले की जांच में जुटी है। शहर कोतवाली क्षेत्र के नासिरपीर मोहल्ला निवासी राजेंद्र प्रसाद बाजपेई का आरोप है कि उसके बेटे रविकांत और शशीकांत है। संस्कृत महाविद्यालय में लिपिक और कोर्ट चतुर्थ श्रेणी पद पर नौकरी के लिए कथित प्रबंधक प्रदीप गर्ग निवासी आरके पुरम गढ़ीवा ने कहा था। झांसा देकर 2017 में तीन लाख रुपए ठग लिया। बाद में नौकरी भी नहीं दी। दबाव बनाने पर 7 जून 2017 और 28 फरवरी 2018 को चेक के जरिए एक लाख रुपए वापस किए।

बाकी रुपए मांगने पर नहीं दिया। इसी तरह नौकरी देने के नाम पर कई लोगों से करीब एक करोड़ की आरोपी ने ठगी की है। वह 25 जुलाई 2021 को प्रदीप घर के रुपए मांगने पहुंचा। तभी उनके लड़के शाश्वत गर्ग ने राइफल निकाल कर गोली से भून डालने की धमकी दी। घर के कुत्तों को छोड़ दिया। किसी तरह उसने जान बचाई। पीड़ित ने इसकी शिकायत एसपी से की। एसपी ने मामले की जांच सीओ सिटी को दी। सीओ सिटी संजय सिंह ने बताया कि मामले में एफआईआर दर्ज की गई है।बसपा नेता प्रदीप गर्ग ने बताया कि उनकी छवि को धूमिल करने का प्रयास किया जा रहा है। सारे आरोप बेबुनियाद हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.