81वीं जयंती पर याद किये गये पूर्व केंद्रीय मंत्री बेनी बाबू

0 112

 

बाराबंकी:  शोषित, वंचितो व सर्वहारा वर्ग के मसीहा थे बेनी बाबू। सामाजिक क्रांति के अग्रदूत के रूप में बेनी बाबू को हमेशा याद रखा जाएगा। उनका आकस्मिक जाना समाज के सभी वर्गों के लिए अपूरणीय क्षति है। बेनी बाबू समाजवादी व्यवस्था के पोषक थे।    उक्त विचार आज पूर्व केंद्रीय मंत्री बेनी प्रसाद वर्मा की 81वीं जयंती के अवसर पर सपा कार्यालय में आयोजित संगोष्ठी ‘बेनी बाबू‘ उनका व्यक्तित्व व कृतित्व में उपस्थित कार्यकर्ताओं के समक्ष पूर्व मंत्री अरविंद सिंह गोप ने उनको नमन करते हुए व्यक्त किए। श्री गोप ने कहा कि समाजवादी आंदोलन से निकले बेनी बाबू ने अपनी कार्यशैली से जनपद ही नहीं पूरे देश में अपनी अमिट छाप छोड़ी। जातिगत व दलगत राजनीति को वह पसंद नहीं करते थे। सपा कार्यकर्ताओं को उनके आदर्शों पर चलना चाहिए।

 

वहीं पूर्व सांसद रामसागर रावत ने बेनी बाबू को नमन करते हुए उन्हें जननायक बताते हुए कहा कि सूचिता की राजनीति को उन्होंने कभी नहीं छोड़ा, स्वच्छ राजनीति के वे हिमायती थे। ताकत में रहते हुए उन्होंने समाज के सभी वर्गों के कल्याण के लिए कार्य किया।

 

इससे पूर्व जनपद का नाम रोशन करने वाले छात्र प्रियंका यादव, अनीता रावत, सतीश वर्मा व शारदानंद तिवारी को ‘बेनी रत्न‘ सम्मान देकर हौसला अफजाई की गई और सपा जिलाध्यक्ष हाफिज अयाज व उपाध्यक्ष मो. सबाह द्वारा घोषणा की गई कि प्रत्येक वर्ष समाजवादी पार्टी जनपद का नाम रोशन करने वालो को बेनी रत्न सम्मान देने का कार्य किया जाएगा। इस मौके पर प्रीतम सिंह वर्मा, पूर्व विधायक राम गोपाल रावत, राम मगन रावत, रतन लाल राव, अरविन्द यादव, हिमांशु यादव, हुमायूं नईम खान, आशीष सिंह आर्यन, रिजवान, दानिश सिद्दीकी, शावेज खान आदि मौजूद रहे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.