मुँह के कैंसर से जूझ रहे कपटू को मिलेगा आयुष्मान का आशीष

0 85

आयुष्मान कार्ड से होगा निःशुल्क इलाज

स्वास्थ्य विभाग की सजगता से मिलेगा नया जीवन

बहराइच : कपटू  को मुँह का कैंसर है, आयुष्मान कार्ड न होने के कारण वह लखनऊ के राम मनोहर लोहिया मेडिकल कालेज से वापस लौट आये। ऐसे में स्वास्थ्य महकमे ने सजगता दिखाते हुए तत्काल उनका आयुष्मान कार्ड बनवाया। अब उनके इलाज का सारा खर्च आयुष्मान भारत के जन-आरोग्य योजना से किया जाएगा । पखरपुर के कमला पट्टीपुर निवासी 52 वर्षीय कपटू को मुँह का कैंसर है। इलाज के लिए राममनोहर लोहिया मेडिकल कालेज लखनऊ गए । इलाज में अधिक खर्च आने के कारण उनसे आयुष्मान कार्ड मांगा गया ताकि उनका इलाज निःशुल्क हो सके। मौके पर कोई दस्तावेज न होने के कारण उन्हें वापस लौटना पड़ा । इस बात की जानकारी होने पर आयुष्मान भारत योजना के नोडल अधिकारी रवींद्र त्यागी ने इसे गंभीरता से लेते हुए तत्काल आयुष्मान कार्ड जारी करवाया। इसके लिए कपटू से आवश्यक दस्तावेज भी लिए गए जिसमें आयुष्मान भारत जन-आरोग्य योजना के तहत जारी प्रधानमंत्री का पत्र तथा व्यक्तिगत पहचान के लिए वोटर कार्ड शामिल था।

पाँच लाख तक का होगा निःशुल्क इलाज

गरीबों के चलायी गयी इस योजना के लिए प्रधानमंत्री को धन्यवाद देते हुये कपटू ने स्वास्थ्य महकमे का भी आभार व्यक्त किया।  कहा कि इस कार्ड के जरिये अब 5 लाख रुपये तक का निःशुल्क इलाज राममनोहर लोहिया में हो सकेगा।

इलाज में न हो देरी आयुष्मान कार्ड जरूरी

कार्यक्रम के नोडल अधिकारी रवींद्र त्यागी ने बताया कि जिनके पास आयुष्मान भारत जन-आरोग्य योजना के तहत जारी प्रधानमंत्री का पत्र या आयुष्मान भारत की सूची में नाम है ऐसे सभी लोगों को अपना आयुष्मान कार्ड बनवा लेना चाहिए ताकि तत्काल आवश्यकता पड़ने पर इलाज के लिए  बेवजह भटकना न पड़े। उन्होंने कहा कि सूची में नाम जानने के लिए नजदीकी किसी भी जनसेवा केंद्र अथवा किसी भी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र से इसकी जानकारी ली जा सकती है और यहीं से आयुष्मान कार्ड भी बनवाया जा सकता है। इसके लिए किसी भी प्रकार का कोई शुल्क नही पड़ता है। उन्होंने बताया कि जनपद में अब तक इस योजना के तहत 19358 आयुष्मान कार्ड धारक अलग-अलग बीमारियों का निःशुल्क इलाज करा चुके हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.