किसान आंदोलन : क्या पेट्रोल पंपों को ट्रैक्टर में डीजल नहीं भरने का यूपी सरकार ने दिया है आदेश ? जानिए क्या बोले अधिकारी

0 95

यूपी : कल गणतंत्र दिवस पर किसान दिल्ली में ट्रैक्टर मार्च करने जा रहे हैं। इसमें शामिल होने के लिए यूपी के कई जिलों से भी किसान ट्रैक्टरों के साथ दिल्ली की ओर निकल चुके हैं। वहीं इस बीच गाजीपुर के कुछ पेट्रोल पंप पर ट्रैक्टरों में डीजल नहीं भरने का नोटिस चिपका दिखा। इसके बाद विपक्षी दलों ने योगी सरकार पर निशाना साधते हुए इसे किसान विरोधी फैसला बताया। इस पर यूपी सरकार की ओर से बयान जारी कर कहा है कि उत्तर प्रदेश सरकार ने ट्रैक्टरों में डीजल न भरने का किसी तरह का आदेश जारी नहीं किया है। सरकार की ओर से कहा गया है कि कांग्रेस के प्रवक्ता द्वारा इस तरह का भ्रम सोशल मीडिया के माध्यम से फैलाया जा रहा है

गाजीपुर में किसानों के आंदोलन और केंद्र सरकार के कृषि कानूनों के विरोध में प्रशासन और पुलिस अलर्ट है। पुलिस ने विपक्षी नेताओं के अलावा गांव गांव ट्रैक्टर मालिकों और चालकों को पाबंद करना शुरू कर दिया है। उन्हें नोटिस देकर 25 और 26 में कहीं भी मूवमेंट नहीं करने के लिए बांड भरवा रहे हैं। गाजीपुर जिले के सुहवल एसओ ने किसानों को डीजल नहीं देने का आदेश पेट्रेाल पंपों पर चस्पा करवा दिया था। वहीं सैदपुर थाना क्षेत्र के एक पेट्रोल पंप पर थानाध्‍यक्ष का हवाला देते हुए नोटिस भी चिपका दी गई है। इस नोटिस के अनुसार यहां पर ट्रैक्‍टरों और बोतल में तेल न देने के लिए सैदपुर थानाध्‍यक्ष की ओर से मनाही है। फरमान 26 जनवरी तक सड़क पर ट्रैक्टर नहीं चलेंगे) इसके अलावा शहर कोतवाली से लेकर देहात तक 20 थानों में किसानों को शनिवार को नोटिस देकर प्रतिबंधित किया गया

किसानों के जत्थे के साथ दिल्ली की ओर रवाना हुए नरेश टिकैत

भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय अध्यक्ष चौधरी नरेश टिकैत सैकड़ों ट्रैक्टर ट्रालियों में सवार हजारों किसानों के जत्थे के साथ दिल्ली की ओर रवाना हो गए। बायवाला चौकी के निकट भाकियू सुप्रीमो ने तिरंगा झंडा लहराकर किसानों की दिल्ली की ओर रवाना किया। गांव गढ़ी सखावतपुर में रामनिवास सहरावत के आवास पर जौला निवासी मोहम्मद आरिफ की ओर से दिल्ली ट्रैक्टर परेड में शामिल होने के लिए जाने वाले किसानों के लिए जलपान व खाने की व्यवस्था की गई थी। वहां पर पहले चौधरी नरेश टिकैत के पुत्र युवा नेता गौरव टिकैत तथा उसके बाद चौधरी नरेश टिकैत स्वयं पहुंचे। भाकियू सुप्रीमो को मोहम्मद आरिफ द्वारा किसान आंदोलन के लिए 21 हजार रुपए का सहयोग भी दिया गया। किसानों में दिल्ली परेड में शामिल होने के लिए अलग ही उत्साह देखने को मिला। किसान अपने साथ खाने का सामान भी लेकर गए है। सभी ट्रैक्टरों व अन्य वाहनों पर भाकियू के झंडे के साथ तिरंगे झंडे भी लगे हुए हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.