गरीबों का राशन हड़प रहे कोटेदार,अधिकारी जानकार भी बने अंजान

0 116

 

फतेहपुर चैरासी,उन्नाव : फतेहपुर 84 ब्लाक के गुरदीनखेड़ा मजरा समसपुर अटिया कबूलपुर निवासिनी अन्त्योदय कार्ड धारक यशोदा पत्नी मुन्ना सिंह तथा विमला पत्नी श्रीराम ने बांगरमऊ उपजिलाधिकारी दिनेश कुमार को प्रार्थना पत्र देकर बताया कि उनका अन्त्योदय राशन बना हुआ है तथा जिन्हे सरकार द्वारा (35 किलो राशन)15किलो चावल 3रुपये के हिसाब से तथा 20किलो गेहूं 2रुपये के हिसाब से उसके गांव में स्थित सरकारी सस्ते गल्ले की दुकान पर मिलता है।लेकिन उन्हें नवंबर एवं दिसंबर दो माह का खाद्यान्न कोटेदार द्वारा नहीं दिया गया।दोनों अन्त्योदय कार्ड धारक महिलाओं नें बताया कि जब वो दोनों कोदेदार के पास अपना अपना खाद्यान्न लेने गये तो कोटेदार नें खाद्यान्न न देते हुए अंगूठा न लगनें की बात कह बैरंग वापस कर दिया।अन्त्योदय लाभार्थी महिलाओं नें नवंबर व दिसंबर 2020 के खाद्यान्न को कोटेदार द्वारा प्रॉक्सी के तहत निकालने का आरोप लगा एसडीएम बांगरमऊ को शिकायती प्रार्थनापत्र सौंपा।

वहीं विश्वस्त सूत्रों की मानें तो सप्लाई विभाग की सांठगांठ के चलते क्षेत्र के कोटेदारों के हौसले इस कदर बुलंद हैं कि कोटेदार के खिलाफ यदि कोई राशन उपभोक्ता शिकायत करता भी है तो कोटेदार के धन बल के होने के कारण उनकी एक भी नहीं सुनी जाती उल्लेखनीय है कि कई माह पहले इसी ग्राम पंचायत के एक शिकायतकर्ता द्वारा स्टाक न होने की शिकायत पर प्रसासन द्वारा जांच टीम उक्त कोटेदार के यहां जांच हेतु पहुंची थी।लेकिन मौके पर पहुंचने के पूर्व ही कोटेदार के खास खबरी द्वारा जानकारी देते ही गेहूं की बोरियों के साथ भूसा की बोरियों को भरकर लगा दिया गया था,तथा सेटिंग गेटिंग हो जानें के चलते उक्त शिकायत को टांय टांय फिश कर गरीबों के हक पर डांका डालने वाले कोटेदार को अभय दान देकर छोड़ दिया गया था,जिससे और कोटेदार के हौंसले बुलंद हो गये,जबकि अंत्योदय कार्ड धारक को हर महीने 35 किलो राशन जिसमे 20 किलो गेहूं और 15 किलो चावल शामिल है मिलता है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.