हार्डवेयर और होजरी सामान की आड़ में की जा रही थी शराब की तस्करी

0 21

अयोध्या : जनपद की नगर कोतवाली पुलिस ने एसटीएफ की मददद से हार्डवेयर और होजरी तथा अन्य सामान की आड़ में पंजाब प्रान्त से बिहार को शराब तस्करी का खुलासा किया है। पुलिस ने फर्जी नंबर प्लेट लगी ट्रक से लगभग 26 लाख रूपये कीमत की अंग्रेजी शराब पकड़ी है और चालक तथा सहचालक को गिरफ्तार किया है। बताया गया कि एसटीएफ की ओर से नगर कोतवाली पुलिस को बिहार प्रान्त को शराब की तस्करी की खबर मिली। सूचना दी गई कि एक ट्रक से अन्य सामानों की आड़ में पंजाब प्रान्त से अवैध शराब की खेप तस्करी कर ले जाई जा रही है।

एसटीएफ ने नगर कोतवाल देवेंद्र सिंह की पुलिस टीम के साथ नवीनमन्डी ओवरब्रिज के पहले नाकाबन्दी कर ट्रक यूपी 42 बीटी 1101 को रोका तो चालक ने वाहन समेत भागने की कोशिशक की, लेकिन पहले से मुस्तैद पुलिस ने वाहन तथा उस पर सवार दोनों लोगों को पकड़ लिया। ट्रक की तलाशी ली तो उसमें हार्डवेयर, होजरी और कॉस्मेटिक्स के सामन के बीच छिपकर रखे गए अंग्रेजी शराब के गत्ते मिले। कड़ाई से पूछताछ में पकड़े गए पंजाब प्रान्त के रूप नगर जनपद के थाना नूरपुरबेदी स्थित गाँव झगरियान निवासी पवन कुमार तथा इसी थाना क्षेत्र के गाँव करतारपुर निवासी महेन्द्र पाल ने शराब तस्करी की बात कबूल कर ली। दोनों ने बताया कि पुलिस को झांसा देने के लिये उन्होंने ट्रक पर लोकल पंजीकरण नंबर का प्लेट लगा रखा है।

सहायक पुलिस अधीक्षक/क्षेत्राधिकारी नगर पलाश बंसल ने बताया कि मौके से पुलिस ने किंग्स गोल्ड स्पेशल विस्की 750 मिली की 1128 बोतल, 375 मिली की 2376 बोतल,180 मिली की 4656 बोतल अर्थात कुल 8160 बोतल अंग्रेजी शराब बरामद की है। जिसकी कीमत लगभग 26 लाख 9 हजार रुपये आंकी गई है। उन्होंने बताया कि कूटरचित फर्जी नम्बर प्लेट ट्रक यूपी 42 बीटी 1101,जिसका वास्तविक नम्बर पीबी 65 एम 3850 है के साथ पुलिस ने 17 नग हार्डवेयर, होजरी, कास्मेटिक के सामान और तस्करी कर बिहार ले जाई जा रही चंडीगढ़ निर्मित अंग्रेजी शराब को जब्त किया है तथा दोनों के खिलाफ धोखाधड़ी, कूटरचना और आबकारी अधिनियम के तहत मुकदमा पंजीकृत करवा आरोपियों का चलान किया है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.