लखनऊ : सारे रिकार्ड टूटे 70 प्रतिशत ने लगवाई कोरोना वैक्सीन

0 107
लखनऊ : में कोरोना वैक्सीनेशन ने रफ्तार पकड़ ली है। शुक्रवार को 70.47 फीसदी लाभार्थियों ने वैक्सीन लगवाई। इनमें 72.94 फीसदी हेल्थ वर्कर शामिल थे। जबकि फ्रंट लाइन वर्कर में भी गजब का उत्साह देखने को मिला। वैक्सीन लगवाने वालों की शाम तक लाइन लगी रही। यहां 64.30 फीसदी फ्रंट लाइन वर्कर ने टीका लगवाया। कुल 9196 लाभार्थियों को वैक्सीन लगनी थी। इनमें 6481 ने वैक्सीन लगाई। टीकाकरण का यह आंकड़ा सबसे ज्यादा रहा। इससे स्वास्थ्य विभाग के अफसर काफी उत्साहित दिखे।
लखनऊ के 21 अस्पतालों में 76 बूथ बनाए गए। स्वास्थ्य कर्मियों के लिए बूथ 55 बूथ बनाए गए। पहली बार फ्रंट लाइन वर्कर का टीकाकरण शुरू हुआ। पहले चरण के छठे चक्र में अब तक के सारे रिकार्ड टूट गए। सुबह नौ से शाम पांच बजे तक टीकाकरण हुआ। इनके लिए 21 बूथ बनाए गए। 6571 हेल्थ वर्कर के टीकाकरण का लक्ष्य रखा गया था। इनमें 4793 हेल्थ वर्कर ने वैक्सीन लगवाई। अब तक 32256 हेल्थ वर्कर वैक्सीन लगवा चुके हैं। वहीं 2625 फ्रंटलाइन वर्करों का टीकाकरण का लक्ष्य रखा गया। इनमें 1688 फ्रंट लाइन वर्कर ने वैक्सीन लगवाई। कुल 45 हजार फ्रंटलाइन वर्कर को टीका लगना है।
डीएम व पुलिस कमिश्नर ने लगवाया टीका
जिलाधिकारी अभिषेक प्रकाश संग कलेक्ट्रेट में 14 से अधिक अफसरों ने टीका लगवाया। राजस्व कर्मियों ने भी टीका लगवाया। स्वास्थ्य विभाग ने कलेक्ट्रेट में दो बूथ लगाए गए। कैसरबार अर्बन सीएचसी की टीम ने फ्रंट लाइन वर्कर को वैक्सीन लगाई। सीएमओ प्रवक्ता योगेश रघुवंशी के मुताबिक सीएमओ डॉ. संजय भटनागर, अपर मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. एमके सिंह समेत अन्य अफसरों ने व्यवस्था को पुख्ता किया। टीकाकरण में किसी भी तरह की अड़चन नहीं आई। दो बेड का इंतजाम किया गया।
ऑक्सीजन सिलेंडर और एम्बुलेंस आदि भी खड़ी थी। ताकि आपात स्थिति से निपटा जा सके। पुलिस कमिश्नर डीके ठाकुर ने पीजीआइ में वैक्सीन लगवाई। संयुक्त पुलिस आयुक्त कानून व्यवस्था नवीन अरोड़ा को दवा से एलर्जी की वजह से वैक्सीन नहीं लग सकी।

Leave A Reply

Your email address will not be published.