Lucknow Breaking News

0 118

नामांकन वापसी का अंतिम दिन आज

लखनऊ : जिला पंचायत अध्यक्ष चुनाव में नामांकन वापसी का मंगलवार को दोपहर 3 बजे तक होगी। जिला पंचायत अध्यक्ष चुनाव में उम्मीदवार 29 जून को दोपहर 3 बजे तक नाम वापस ले सकेंगे। 3 जुलाई को सुबह 11 से दोपहर 3 बजे तक मतदान होगा। दोपहर 3 बजे बाद मतगणना कर परिणाम घोषित किए जाएंगे। उल्लेखनीय है कि 75 में से 18 जिला पंचायतो में निर्विरोध निर्वाचन तय हो गया है। इनमें से 17 जिलों में भाजपा एक इटावा में सपा के उम्मीदवार का निर्विरोध जिला पंचायत अध्यक्ष चुना जाना तय है।

राज्य निर्वाचन आयोग ने सपा की शिकायत पर मैनपुरी के जिलाधिकारी से रिपोर्ट तलब की है। विधान परिषद सदस्य उदयवीर सिंह सहित सपा के नेताओं ने मैनपुरी में आचार संहिता का उल्लंघन होने और सदस्यों को धमकाने की शिकायत की थी। आयोग के विशेष कार्याधिकारी एस.के.सिंह ने बताया कि सपा की शिकायत पर मैनपुरी के डीएम से रिपोर्ट मांगी है।

उधर, सपा के प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम पटेल के नेतृत्व में सोमवार को आयोग पहुंचे प्रतिनिधि मंडल ने जिला पंचायत अध्यक्ष चुनाव में धांधली का आरोप लगाया। सपा का आरोप है कि भाजपा सत्ता के संरक्षण में जिला पंचायत अध्यक्ष चुनाव में धांधली कर रही है। सपा के जिला पंचायत सदस्यों को धमकाया जा रहा है। प्रतिनिधि मंडल में एमएलसी राजपाल कश्यप, रामवृक्ष यादव सहित अन्य नेता शामिल थे।

राष्ट्रपति कोविंद ने आंबेडकर स्मारक का किया शिलान्यास

लखनऊ : राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने मंगलवार को लोकभवन से भारत रत्न डॉ. भीमराव आंबेडकर के स्मारक व सांस्कृतिक केंद्र का शिलान्यास किया। इसके पहले सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किए गए। बता दें कि ऐशबाग में आंबेडकर स्मारक एवं सांस्कृतिक केंद्र का निर्माण किया जाएगा। कार्यक्रम में राज्यपाल आनंदीबेन पटेल व मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मौजूद रहे। इस अवसर पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि सिर्फ भारत में ही नहीं बल्कि जहां भी दलित, पिछड़ों और वंचितों के लिए न्याय की बात आएगी वहां बाबा साहेब का नाम पूरे सम्मान से लिया जाएगा।

राजधानी एक्सप्रेस में नाबालिग से छेड़खानी

लखनऊ : डिब्रूगढ़ से नई दिल्ली जा रही राजधानी एक्सप्रेस में छेड़खानी का मामला सामने आया है। तथाकथित आरोपी फौजी ने बच्ची से अश्लीलता की और चारबाग रेलवे स्टेशन पर उतरकर भाग गया। स्टेशन के सीसीटीवी कैमरों की जांच से मामले का खुलासा होगा। गत रविवार को ट्रेन नंबर 02503 राजधानी एक्सप्रेस डिब्रूगढ़ से नई दिल्ली जा रही थी। गुवाहाटी से एक परिवार डिब्रूगढ़ से नई दिल्ली के लिए सवार हुआ। थर्ड एसी कोच बी-5 में उनकी तीन सीटें रिजर्व थीं। उसी बोगी में एक तथाकथित फौजी भी सवार था।

महिला ने आरोप लगाया कि रात करीब एक बजे उसने नाबालिग बेटी को देख अश्लील हरकतें कीं। शिकायत करने के बाद छपरा स्टेशन पर पुलिस आई थी लेकिन फौजी ने माफी मांग ली, जिसके बाद उसके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की गई। इस बीच टीटीई ने मामले की जानकारी रेलवे कंट्रोल रूम को दे दी। सुबह 6 बजे रेल कंट्रोल रूम को सूचना दी गई लेकिन इससे पहले ही राजधानी एक्सप्रेस चारबाग रेलवे से निकल चुकी थी। लिहाजा मामला बरेली पहुंचा और जीआरपी ने मामला दर्ज किया।

महिला के आरोपों की वीडियो रिकॉर्डिंग भी की गई। बताया गया कि आरोपित चारबाग रेलवे स्टेशन पर ही उतरकर भाग गया था। वहीं, चारबाग जीआरपी प्रशासन ने बताया कि जीआरपी बरेली से संपर्क करेगी और मामले की जांच में पूरा सहयोग करेगी। स्टेशन पर लगे सीसीटीवी भी खंगाले जाएंगे। वहीं छपरा जीआरपी का कहना है कि राजधानी एक्सप्रेस के कोच-बी 5 के रिजर्वेशन चार्ट से आरोपी आर्मीमैन को तलाशा जाएगा। उसकी गिरफ्तारी की जाएगी।

शिया वक्फ बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष के काफिले पर पत्थरबाजी

लखनऊ : शिया सेंट्रल वक्फ बोर्ड के सदस्य व पूर्व अध्यक्ष वसीम रिजवी के काफिले पर सोमवार शाम को पत्थरबाजी हुई। चौक थानाक्षेत्र के चरक चौराहे पर हुए इस घटना में पूर्व अध्यक्ष के सुरक्षा में तैनात कर्मी ने अज्ञात पर आरोप लगाया। सुरक्षाकर्मी की तहरीर पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया है। मामले की जांच के लिए सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगाली जा रही है। प्रभारी निरीक्षक चौक विश्वजीत सिंह के मुताबिक शिया सेंट्रल वक्फ बोर्ड के सदस्य व पूर्व अध्यक्ष वसीम रिजवी सोमवार शाम करीब पांच बजे अपने घर जा रहे थे। महानगर के मेट्रो सिटी स्थित आवास जाते समय तीन गाड़ियों के काफिला नक्खास से निकलकर चरक चौराहे पर चरक डाग्नोस्टिक सेंटर के सामने पहुंचा था। तभी काफिले की सबसे पीछे चलने वाली गाड़ी पर अचानक से पत्थर आकर लगा। सुरक्षाकर्मियों ने आनन-फानन में काफिले को सुरक्षित स्थान पर खड़ा कर आसपास के इलाके में पत्थर चलाने वाले की तलाश की। लेकिन कोई सुराग हाथ नहीं लगा। इसके बाद पूर्व अध्यक्ष वसीम रिजवी और उनके सुरक्षा में तैनात पुलिसकर्मी चौक थाने पहुंचे।

प्रभारी निरीक्षक चौक विश्वजीत सिंह के मुताबिक पूर्व अध्यक्ष के सुरक्षाकर्मी अवधेश ने थाने में तहरीर दी। जिसके मुताबिक उनका काफिला चरक डायग्नोस्टिक सेंटर के सामने पहुंचा था। वहीं पीछे से किसी ने पत्थर मार दी। काफिले में सबसे पीछे चलने वाली एसयूवी का शीशा टूट गया है। इस दौरान पूर्व अध्यक्ष सहित सभी लोग सुरक्षित है। कोई हताहत नहीं हुआ है। पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया है। मामले की जांच की जा रही है। पुलिस टीम इलाके में लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगाल रही है। ताकि पत्थर चलाने वाले के बारे में जानकारी हासिल की जा सके।

सरकारी दफ्तरों में सभी कार्मिकों की उपस्थिति अनिवार्य

लखनऊ : कोविड-19 महामारी की स्थिति में सुधार को देखते हुए प्रदेश के सभी सरकारी कार्यालय अब 100 प्रतिशत कार्मिकों की उपस्थिति के साथ खुलेंगे। मुख्य सचिव राजेंद्र कुमार तिवारी ने इस संबंध में दिशानिर्देश जारी कर दिए हैं। मुख्य सचिव ने कहा है कि पूरी उपस्थिति के बावजूद संक्रमण की रोकथाम को देखते हुए कार्यालयों में भीड़भाड़ न हो। सभी कार्यालय स्टाफ सैनिटाइजेशन, फेस मास्क, फेस कवर, सोशल डिस्टेंसिंग व अन्य सुरक्षात्मक उपायों का पूरा ध्यान रखेंगे। संक्रमण से प्रभावित क्षेत्रों में कार्यालयों को बंद किए जाने अथवा उनमें उपस्थिति के संबंध में जिला प्रशासन के स्तर से निर्णय लिया जाएगा।

ससुराल आए सभासद विनोद कुमार की कार नाले में बह गई।

लखनऊ : ठाकुरगंज इलाके में सोमवार को तेज बारिश हुई। इस दौरान ससुराल आए सभासद विनोद कुमार की कार नाले में बह गई। बहाव इतना तेज था कि कार घर से करीब दो सौ मीटर दूर तक चली गई। कार पूरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गई। सूचना पर पहुंची पुलिस ने क्रेन से कार बाहर निकालवाई। रायबरेली के बछरावां निवासी विनोद कुमार वार्ड नंबर-11 से सभासद हैं।

उन्होंने बताया कि लखनऊ में दवा लेनी थी। रविवार रात ठाकुरगंज इलाके कल्याणीजी मंदिर के पास स्थित ससुराल आए थे। रात करीब नौ बजे कार नाले के पास खड़ी की थी। सुबह काफी तेज बारिश होने लगी। इससे घर के पीछे के नाले ओवरफ्लो हो गया और तेज बहार में नाले के किनारे खड़ी विनोद की कार भी बह गई। दोपहर में विनोद बाहर निकले तो कार नहीं थी। इस पर उन्होंने आसपास तलाश की। इस दौरान किसी ने सूचना दी कि कार दो सौ मीटर दूर नाले में दिखी है। विनोद की सूचना पर पहुंची पुलिस ने क्रेन मंगवाई और नाले से कार को क्रेन से खींचकर बाहर कराया।

Leave A Reply

Your email address will not be published.