Lucknow Breaking News

0 138

बड़ी पार्टियों ने किया सपा से किनारा

लखनऊ : बहुजन समाज पार्टी की अध्यक्ष मायावती ने एक बार फिर से समाजवादी पार्टी पर जोरदार हमला बोला है। मायावती ने आगामी विधानसभा चुनाव को लेकर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि सपा दलित विरोधी है। कोई भी बड़ी व प्रमुख पार्टी सपा से गठबंधन नहीं किनारा करना ही ज़्यादा बेहतर समझती हैं।  शुक्रवार की सुबह मायावती ने ट्वीट किया और लिखा कि समाजवादी पार्टी की घोर स्वार्थी, संकीर्ण व खासकर दलित विरोधी सोच, कार्यशैली आदि के कड़वे अनुभवों तथा इसकी भुक्तभोगी होने के कारण देश की अधिकतर बड़ी व प्रमुख पार्टियां चुनाव में इनसे किनारा करना ही ज़्यादा बेहतर समझती हैं, जो सर्वविदित है।  इसीलिए आगामी यूपी विधानसभा आमचुनाव अब यह पार्टी किसी भी बड़ी पार्टी के साथ नहीं बल्कि छोटी पार्टियों के गठबंधन के सहारे ही लड़ेगी। ऐसा कहना व करना सपा की महालाचारी नहीं है तो और क्या है?

डेल्टा प्लस को लेकर सावधानी बरतने के योगी ने दिए निर्देश

लखनऊ : मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि कोरोना वायरस के नए वैरिएंट डेल्टा प्लस को लेकर हर स्तर पर सावधानी बरती जाए। बाहर से आने वालों के सैंपल लेकर जीनोम सिक्वेंसिंग कराई जाए। ग्रामीण व शहरी क्षेत्रों में स्वच्छता, सैनिटाइजेशन, फॉगिंग और एंटी लार्वा का छिड़काव किया जाए। वह गुरुवार को टीम 9 की बैठक में कोरोना नियंत्रण की समीक्षा कर रहे थे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश से सटे कई राज्यों में डेल्टा प्लस से संक्रमित मिले हैं। इन राज्यों में मरीजों का इलाज चल रहा है। ऐसे में राज्य स्तरीय चिकित्सा विशेषज्ञों की परामर्शदाता समिति से लगातार सलाह ली जाए। वैरिएंट के अनुसार उससे निपटने की पुख्ता रणनीति बनाई जाए। मुख्यमंत्री ने कहा कि ट्रेस, टेस्ट एंड ट्रीट की रणनीति से कोविड नियंत्रण में कामयाबी मिली है। इसके लिए लगातार सक्रिय रहना होगा। सोशल डिस्टेसिंग का पालन कराने के लिए पुलिस पेट्रोलिंग बढाई जाए। कोरोना से दिवंगत हुए लोगों को श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि ग्राम पंचायतों में उनकी याद में स्मृति वाटिका स्थापित की जाए।  एक्सप्रेस वे  के आसपास पंचवटी, नवग्रह आदि वाटिकाएं लगायी जाएं।

उन्होंने कहा कि कोरोना काल में जिन सरकारी अथवा अधिग्रहीत निजी चिकित्सा संस्थानों ने सहयोग किया है उनके सभी भुगतान प्राथमिकता पर किए जाएं। मुख्यमंत्री ने कहा कि मरीजों केहित में कार्य करने वाले अस्पतालों को किसी तरह की असुविधा नहीं होनी चाहिए। चिकित्सकों, नर्सों सहित अन्य स्वास्थ्यकर्मी और फ्रंटलाइन कोरोना वॉरियर के देयकों के भुगतान में भी देरी नहीं होनी चाहिए। इसी तरह मृतक आश्रित लाभ आदि के प्रकरण का तुरंत निराकरण किया जाए। बहराइच जिले में कोरोना वायरस की चपेट में आने वाले 19 मरीजों के सैंपल जीनोम सिक्वेंसिंग भी कराई जा रही है। ये मरीज नेपाल यात्रा से लौटे थे। यहां आने के कुछ दिन बाद उनमें लक्षण मिले। ऐसे में जांच कराई गई तो 19 की रिपोर्ट पॉजीटिव मिली है। अब नेपाल सहित अन्य राज्यों से सटे सीमावर्ती जिलों में विशेष सतर्कता बरतने के निर्देश दिए हैं। मुख्यमंत्री ने समीक्षा बैठक में भी सीमावर्ती जिलों की स्थिति के बारे में जानकारी ली।

भाकियू के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत की सुरक्षा बढ़ाई

लखनऊ : भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत की सुरक्षा बढ़ाई गई है। शासन के आदेश पर मुजफ्फरनगर पुलिस लाइन से उन्हें दो और गनर उपलब्ध कराए गए हैं। अब तीन पुलिसकर्मी उनकी सुरक्षा में तैनात रहेंगे। भाकियू नेता को मिल रही लगातार धमकियों के मद्देनजर शासन ने उनकी सुरक्षा बढ़ाई है। भाकियू के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत तीन कृषि कानूनों के विरोध में बीते सात माह से 24 नवंबर से दिल्ली के गाजीपुर बॉर्डर पर आंदोलन कर रहे हैं। इस बीच भाकियू नेता को तीन बार धमकी मिल चुकी है। राकेश टिकैत के पास पहले से ही एक सुरक्षाकर्मी उपलब्ध है। अब उन्हें मिल रही लगातार धमकियों को गंभीरता से लेते हुए शासन ने गाजियाबाद प्रशासन से रिपोर्ट मंगवाई थी। जिसके बाद शासन ने राकेश टिकैत की सुरक्षा बढ़ाने का निर्णय लेते हुए मुजफ्फरनगर जिला प्रशासन से उन्हें दो और सुरक्षाकर्मी उपलब्ध कराने के आदेश दिए।

शासन के आदेश पर स्थानीय प्रशासन ने पुलिस लाइन से भाकियू के राष्ट्रीय प्रवक्ता को दो और सुरक्षाकर्मी उपलब्ध करा दिए हैं। वहीं किसानों की ओर से भी मुकदमे दर्ज होने के बाद भारतीय किसान यूनियन ने गुरुवार देर रात थानों पर दिए जा रहे धरने समाप्त कर दिए हैं। किसानों पर मुकदमे दर्ज होने पर भाकियू कार्यकर्ताओं ने गुरुवार को दोपहर बाद हाईवे के टोल को फ्री कराकर थानों पर धरना शुरू कर दिया था। भाकियू के जिलाध्यक्ष धीरज लाटियान ने बताया कि गुरुवार देर रात को गाजीपुर मामले में किसानों की ओर से भी मुकदमे दर्ज कर लिए गए। जिसकी जानकारी मिलने पर कार्यकर्ताओं ने गुरुवार देर रात थानों पर दिए जा रहे धरने समाप्त कर दिए।

गाजीपुर बॉर्डर पर भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत के नेतृत्व में आंदोलन चल रहा है। वहीं आंदोलन के दौरान कुछ भाजपा नेता मंच पर पहुंच गए थे। इसके बाद कार्यकर्ताओं ने भाजपा कार्यकर्ताओं को मारपीट कर भगा दिया था। इस मामले में पुलिस ने भारतीय किसान यूनियन के पदाधिकारियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया। वहीं जब किसान यूनियन के पदाधिकारी मुकदमा दर्ज कराने पहुंचे तो पुलिस ने मुकदमा दर्ज नहीं किया। इससे कार्यकर्ताओं में रोष फैल गया।

बाबू सिंह कुशवाहा और नसीमुद्दीन सिद्दीकी पर विजिलेंस का शिकंजा

लखनऊ : सतर्कता अधिष्ठान ने स्मारक घोटाला मामले में बसपा सरकार के दो पूर्व मंत्रियों बाबू सिंह कुशवाहा और नसीमुद्दीन सिद्दीकी को इस माह के तीसरे सप्ताह में पूछताछ के लिए बुलाया है। बसपा दोनों नेताओं को पहले ही पार्टी से निष्कासित कर चुकी है। वर्तमान में बाबू सिंह किसी पार्टी में नहीं हैं। जबकि सिद्दीकी कांग्रेस में मीडिया प्रभारी हैं।

मायावती के शासनकाल में 4200 करोड़ रुपये का स्मारक घोटाला हुआ था। विजिलेंस ने इसी मामले में कुशवाहा व नसीमुद्दीन को नोटिस भेजा है। सूत्रों का कहना है कि इन दोनों ही पूर्व मंत्रियों ने कंसोर्टियम के लिए जो कैबिनेट नोट तैयार किए थे, उसमें इनके हस्ताक्षर थे। उसी से संबंधित सवालों के जवाब देने के लिए दोनों पूर्व मंत्रियों को बुलाया गया है। इनके अलावा निर्माण निगम के कुछ अन्य इंजीनियरों व यूनिट इंचार्ज को भी नोटिस भेजा गया है।

दो हजार करोड़ का होने वाला कारोबार इस बार 600 करोड़ पर सिमट गया।

लखनऊ : कोरोना की मार, नकली दवाओं का इस्तेमाल और बेमौसम बारिश ने जहां मलिहाबादी दशहरी का स्वाद बिगाड़ा है वहीं, इसका कारोबार अर्श से फर्श पर आ गया है। दो साल पहले तक सीजन में दो हजार करोड़ का होने वाला कारोबार इस बार 600 करोड़ पर सिमट गया।  मैंगो ग्रोवर एसोसिएशन के अध्यक्ष इंसराम अली कहते हैं कि निर्यात से सब्सिडी भी 26 प्रतिशत से घटाकर 10 फीसदी करने से बागबानों को ज्यादा जेब ढीली करनी पड़ी है। बताया कि माल, मलिहाबाद, काकोरी और इटौंजा को मिलाकर 27 हजार हेक्टेयर क्षेत्र में आम होता है। मलिहाबाद-माल की 90 फीसदी आबादी का मुख्य व्यवसाय यही है। विडंबना तो ये है कि एक तरफ बागवानी-उद्यान की निगरानी करने वाले विभाग का मुख्यालय यहां है तो दूसरी तरफ संरक्षणकर्ता और शोधकर्ता संस्थान भी। इसके बावजूद दशहरी की मांग घट रही है।  कारोबारी हाफिज अली कहते हैं कि रोजाना 7-8 गाड़ी मुंबई के लिए लोड होती थी, लेकिन आम की घटती गुणवत्ता से लोडिंग बंद है। बचा आम मजबूरी में आसपास की मंडियों में औने-पौने दाम में खपा रहे हैं

उद्यान रत्न एससी शुक्ला वर्षों से आम की विभिन्न प्रजातियों के संरक्षण से जुड़े हैं। दशहरी की दुर्दशा पर दुख जताते हुए कहते हैं कि बागबानों-कारोबारियों से बातचीत में पीड़ा सामने आई। उनका कहना है कि नौ से 11 बार कीटनाशक का स्प्रे किया। इसके बावजूद कीड़े नहीं मरे। अब दवाओं का असर इन पर नहीं हो रहा, ये भी कोरोना की तरह म्यूटेंट हो गए हैं। निश्चित तौर पर नकली दवाओं का इस्तेमाल हो रहा है। प्रूफ इसलिए नहीं है क्योंकि ड्रग इंस्पेक्टर कभी नमूना लेने जाते ही नहीं है। जांच के लिए कोई लैब भी नहीं हैं।  हां, ये सच है कि आम बदरंग हुआ है। इसके लिए निश्चित तौर पर खराब कीटनाशक जिम्मेदार है। कुछ बजट की कमी है, इसका असर जागरूकता कार्यक्रमों पर पड़ा है। हमारा काम बागबानों की समस्याओं को समझना, विशेषज्ञों से विचार विमर्श कर समाधान तलाशना और उसे किसानों तक पहुंचाना है। दो साल से जो समस्याएं हुई हैं, उसके लिए जरूरी दवाएं उपलब्ध कराने को कृषि विभाग को बताया गया है।

माह जुलाई की शुरुआत भीषण गर्मी के साथ

 

लखनऊ : माह जुलाई की शुरुआत भीषण गर्मी के साथ हुई। मानसून के इंतजार में बेहाल के प्रदेश के दस से अधिक जिलों में पारा चालीस से पार चला गया। इनमें 42.2 डिग्री के साथ आगरा सबसे अधिक तपा। वहीं मौसम विभाग ने शुक्रवार को भी आगरा, फिरोजाबाद, इटावा, जालौन, हमीरपुर, महोबा, झांसी, ललितपुर समेत आसपास के इलाकों के लिए येलो अलर्ट जारी करते हुए हीट वेव की चेतावनी दी है।

मौसम बुलेटिन के मुताबिक, आगरा के अलावा जिन जिलों में अधिकतम तापमान चालीस से पार गया, उनमें लखनऊ, फतेहगढ़, बांदा, कानपुर सिटी (40.4), अलीगढ़ (41.4), मेरठ (40.6), नजीबाबाद (40.2), हरदोई और कानपुर (आईएएफ) (40.8) शामिल हैं मौसम विभाग ने कुशीनगर, महाराजगंज, सिद्धार्थनगर, बलरामपुर, श्रावस्ती, बहराइच, लखीमपुर खीरी, बिजनौर, मुरादाबाद, रामपुर, बरेली, पीलीभीत और आसपास के इलाकों में भारी बारिश के आसार जताते हुए येलो अलर्ट जारी किया है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.