लाउडस्पीकर विवाद सुलझाने के लिए महाराष्ट्र सरकार ने बुलाई सर्वदलीय बैठक, राज ठाकरे नहीं होंगे शामिल

0 21

मुंबई : महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना प्रमुख राज ठाकरे राज्य सरकार की ओर से लाउडस्पीकर विवाद को सुलझाने के लिए बुलाई गई सर्वदलीय बैठक में हिस्सा नहीं लेंगे। मनसे नेता संदीप देशपांडे ने यह जानकारी दी है। इस बैठक में मनसे नेता संदीप देशपांडे, बाला नंदगांवकर और नितिन सरदेसाई शामिल होंगे। वहीं, राज्य के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे और पूर्व सीएम व विपक्ष के नेता देवेंद्र फडणवीस भी बैठक में शामिल नहीं होंगे। बैठक की अध्यक्षता महाराष्ट्र के गृह मंत्री दिलीप वालसे और उप मुख्यमंत्री अजीत पवार करेंगे।

गृह मंत्री दिलीप वालसे ने आज होने वाली सर्वदलीय बैठक बुलाई है। बैठक में लाउडस्पीकरों को लेकर चल रहे विवाद के बीच राज्य में कानून-व्यवस्था की स्थिति पर चर्चा होने की उम्मीद है। राज्य में चल रहे लाउडस्पीकर विवाद के मद्देनजर, ठाकरे ने कहा था कि देश के मुसलमानों को यह समझना चाहिए कि धर्म कानून और देश से ऊपर नहीं है। उन्होंने मस्जिदों से लाउडस्पीकर हटाने के लिए भी कहा था। राज ठाकरे दे चुके हैं यह चेतावनी राज ठाकरे ने देश के तमाम हिंदू हिंदुओं से अपील की है कि वे तैयार रहें। अगर 3 मई तक मुस्लिम समाज के लोग मस्जिदों से लाउडस्पीकर नहीं हटाते हैं तो हम भी उन्हें लाउडस्पीकर पर हनुमान चालीसा लगाएंगे।

उन्होंने कहा कि लाउडस्पीकर की वजह से सिर्फ हिंदुओं को ही तकलीफ नहीं हो रही है। बल्कि इसके शिकार मुस्लिम समाज के लोग भी हो रहे हैं।लाउडस्पीकर के इस्तेमाल की अनुमति लेना अनिवार्य ठाकरे की तीखी टिप्पणियों के बीच, महाराष्ट्र के गृह विभाग ने धार्मिक स्थलों पर लाउडस्पीकर के इस्तेमाल पर अदालत के पहले के आदेशों को लागू करने का फैसला किया है। राज्य सरकार ने धार्मिक स्थलों के लिए लाउडस्पीकर के इस्तेमाल की अनुमति लेना अनिवार्य कर दिया है। गृहमंत्री दिलीप वलसे पाटिल ने पुलिस महानिदेशक के साथ बैठक की थी। उन्होंने सभी पुलिस आयुक्तों और अधिकारियों को नए फैसले से अवगत कराने के निर्देश दिए हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.