अब हर हाल में खोले जाएं कक्षा छह से आठ तक के स्कूल

0 100

लखनऊ :  कोरोना की वैक्सीन आ चुकी है। अब खतरे या डर की बात नहीं है। ऐसे में लंबे समय से बंद चल रहे स्कूल खोले जाएं। यह कहना था अनएडेड प्राइवेट स्कूल एसोसिएशन का। शुक्रवार को हजरतगंज स्थित सेंट फ्रांसिस स्कूल में आयोजित प्रेस वार्ता में अनएडेड प्राइवेट स्कूल एसोसिएशन के स्टेट प्रेसीडेंट अनिल अग्रवाल ने कहा कि 19 अक्टूबर 2020 को 9 से 12 तक कि कक्षाएं तीन घंटे के लिए स्कूल खोलने के आदेश दिए गए थे। इसेे अब सरकार ने बढ़ाकर पांच घंटे स्कूल खोलने की मंजूरी दे दी है। इसके बाद अब स्कूल में लंच आवर भी होंगे। स्कूल अपनी ओर से हर स्तर पर कोविड से निपटने के इंतजाम सुनिश्चित कर चुके हैं। उनका तर्क है कि चिडिय़ाघर खुल चुके हैं। शॉपिंग मॉल खुल चुके हैं, लेकिन सबसे जरूरी और बुनियादी सेक्टर शिक्षण संस्थान नहीं खुले। सरकार को तत्काल स्कूल खोल देने चाहिए।

 

उन्होंने कक्षा छह से आठ तक के स्कूल भी खोलने की मांग की है। एसोसिएशन की दलील है कि बहुत बड़ी तादाद में लोगों ने एक बार भी फीस नहीं जमा की है। आठवीं तक के बड़ी संख्या में अभिभावकों ने फीस नहीं दी है, अनुमान के मुताबिक करीब 22 प्रतिशत अभिभावकों ने इस बार फीस नहीं जमा की है। एसोसिएशन का कहना है कि कोरोना संक्रमण को देखते हुए निर्धारण किया गया है कि किसी भी बच्चे को फेल नहीं होने दिया जाएगा। इस बार सभी बच्चों को प्रमोट किया जायेगा।

Leave A Reply

Your email address will not be published.