अबकि बार मतदान 70 प्रतिशत पार, कोरोना की होगी हार : डीएम

0 53

लखनऊ : जिलाधिकारी व जिला निर्वाचन अधिकारी अभिषेक प्रकाश ने शहर के समस्त आर.डब्ल्यू.ए. (रेजिडेंट वेलफेयर एसोसिएशन)के साथ गूगल मीट के माध्यम से आॅनलाइन बैठक की गई। इस अवसर पर लखनऊ विकास प्राधिकरण के सचिव पवन कुमार गंगवार भी उपस्थित रहे। बैठक में जिलाधिकारी ने कहा कि विभिन्न निर्वाचनों में शहर के मतदान का प्रतिशत 56-57 प्रतिशत रहा है, जोकि अपेक्षा से कम है।

उन्होंने सभी आरडब्ल्यूए से यह कहा कि वे अपने-अपने क्षेत्रों में बड़े पैमान पर मतदाता जागरुकता का काम करते हुए आगामी विधानसभा निर्वाचन में 70 प्रतिशत से अधिक मतदान सुनिश्चित कराएं। उन्होंने यह भी बताया कि भारत निर्वाचन आयोग के निदेर्शों के अनुसार 80 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के मतदाता, दिव्यांग मतदाता व कोविड से पीड़ित मतदाताओं को पोस्टल बैलट के माध्यम से मतदान किए जाने की सुविधा दी गई है।

इन तीनों प्रकार के एबसेंटी मतदाताओं के लिए बीएलओ के माध्यम से सम्बंधित रिटर्निंग अधिकारियों को आवेदन करते हुए मतदान की सुविधा प्राप्त की जा सकती है। इस बार जनपद के 4018 मतदेय स्थल व 1526 मतदान केन्द्रों हेतु सभी मतदान केन्द्रों पर सेल्फी प्वाइंट बनाए जाने का काम किया जाएगा। सभी मतदाता मतदान के पश्चात अपनी सेल्फी लेते हुए एक उत्सव के रूप में राष्ट्रीय महत्व के इस कार्यक्रम में अपना योगदान दे सकेंगे। मतदान के पश्चात 11 सर्वोत्तम सेल्फी को सम्मानित किया जाएगा। इसके अलावा जनपद में 41 महिला मतदेय स्थल व पर्यावरण की दृष्टि से जागरूकता के लिए

कुछ शून्य प्रदूषण के मतदेय स्थल बनाए जाएंगे, जिनमें सोलर पैनल, गोल्फ कार्ट आदि का प्रयोग करते हुए समस्त व्यवस्थाएं सुनिश्चित कराई जाएंगी। जिलाधिकारी द्वारा सभी आरडब्ल्यूए के प्रतिनिधियों को लखनऊ ने ठाना है। अबकि बार मतदान 70 प्रतिशत पार साथ में कोरोना की होगी का नारा दिया। उन्होंने कहा कि इस बार जनपद के निवासी इसी सूत्रवाक्य के साथ अपने कर्तव्यों का पालन करेंगे। जिलाधिकारी द्वारा आरडब्ल्यूए की बैठक में कोरोना के नियंत्रण के लिए अपनाए जाने वाले उपायों पर भी चर्चा की गई।

उन्होंने व्यस्कों में वैक्सीनेशन की प्रथम डोज का शत प्रतिशत लक्ष्य हासिल करने के उपरांत दूसरी डोज के लिए भी वर्तमान में लगभग 71 प्रतिशत से बढ़ाते हुए इसे आगामी एक सप्ताह में शत प्रतिशत किए जाने की आवश्यकता पर बल दिया।15 से 18 वर्ष आयुवर्ग के सभी बच्चों का भी शत प्रतिशत टीकाकरण कराया जाना आवश्यक है। इसी कड़ी में जिलाधिकारी द्वारा उन 10 विद्यालयों के प्रधानाचार्यों को सम्मानित किया जिन्होंने अपने विद्यालयों में बच्चों के शत प्रतिशत टीकाकरण की उपलब्धि हासिल की है। जिलाधिकारी द्वारा सभी आरडब्ल्यूए के प्रतिनिधियों से आग्रह किया गया कि वे अपनी-अपनी सोसाइटियों में शत प्रतिशत टीकाकरण के लक्ष्य को प्राप्त करते हुए कोविड एप्रोप्रिएट बिहेवियर सुनिश्चित कराएं। जिसके अंतर्गत सोशल डिस्टेन्सिंग, मास्क का प्रयोग तथा शत प्रतिशत टीकाकरण कराया जाना आवश्यक है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.