राम मंदिर के नाम पर जाली रसीदों से वसूली करने की शिकायत पर पुलिस ने दो आरोपितों को दबोचा  

0 92

कानपुर : आस्था के नाम पर ठगी करके लोग अपनी जेब भर रहे हैं। राम मंदिर निर्माण में सहयोग की धनराशि के नाम पर जाली रसीदों से वसूली करने की शिकायत पर पुलिस ने दो आरोपितों को पकड़ा है। पकड़े गए आरोपित खुद को हिंदू महासभा का पदाधिकारी बता रहे हैं। पुलिस दोनों आरोपितों से जाली रसीदें बरामदगी के प्रयास कर रही है।

राम मंदिर निर्माण के लिए सहयोग धनराशि देने के लिए भाजपा समेत कई हिंदू संगठन धनराशि एकत्र कर भेज रहे हैं। इसी बीच विश्व हिंदू परिषद के कुछ पदाधिकारियों ने जाली रसीदों के माध्यम से सहयोग के नाम पर धन उगाही किए जाने की जानकारी दी गई थी। जिस पर पुलिस ने खुद के प्रदेश स्तर का पदाधिकारी बताने वाले और दामोदर नगर निवासी प्रचारक को पकड़ा। इनके खिलाफ जाली रसीदों से धनराशि वसूली की कई शिकायतें होने की जानकारी हुई।

थाना प्रभारी बर्रा हरमीत सिंह ने बताया कि मामले में दोनों के पास से रसीदों के कुछ फोटो बरामद हुए हैं। आरोपितों से पूछताछ की जा रही है। फिलहाल विश्व हिंदू परिषद के पदाधिकारियों को मामले की जानकारी दी गई है। तहरीर मिलने पर आरोपितों के खिलाफ धोखाधड़ी की रिपोर्ट दर्ज की जाएगी। वहीं इस बारे में जानकारी जुटाई जा रही है कि आरोपितों ने कितने लोगों से रकम की वसूली की है। थाना प्रभारी ने बताया कि पकड़े गए आरोपितों के खिलाफ छानबीन करने में सामने आया कि कई लोगों से 21 सौ, 51 सौ धनराशि की वसूली की है, लेकिन उन लोगों को रसीदें नहीं दी है। थाना प्रभारी के मुताबिक अभी सिर्फ दो आरोपित ही पुलिस के हत्थे चढ़े हैं। गिरोह में कई और सदस्य शामिल होने की जानकारी है। उन आरोपितों के बारे में भी पता लगाया जा रहा है। जल्द उनकी भी धर पकड़ भी की जाएगी।

Leave A Reply

Your email address will not be published.