पीड़ित परिवारों से मिलने आए कांग्रेस के अजय माकन को पुलिस ने रोका

0 13

दिल्ली : दिल्ली के जहांगीरपुरी में गुरुवार को कांग्रेस का डेलिगेशन अजय माकन के नेतृत्व में पहुंचा। वे यहां पीड़ित परिवारों से मिलने आए थे। पुलिस ने इस डेलिगेशन को पीड़ित परिवारों से मिलने नहीं जाने दिया। इन लोगों को उस जगह जाने से भी रोक दिया गया, जहां हिंसा हुई थी। माकन ने कहा कि हम यहां इसलिए आए हैं ताकि पीड़ितों को धर्म के चश्मे से न देखा जाए। इस बीच हिंसा के 3 आरोपियों पर राष्ट्रीय सुरक्षा कानून लगाने की तैयारी चल रही है। इसके लिए गृहमंत्रालय को डॉजियर सौंपा जाएगा।

इससे पहले जहांगीरपुरी में ऑपरेशन बुलडोजर पर सुप्रीम कोर्ट ने बड़ा फैसला सुनाया। सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि जहांगीरपुरी में पहले जैसी स्थिति बरकरार रखी जाएगी यानी वहां अतिक्रमण पर एक्शन नहीं लिया जाएगा। अदालत ने साफ किया कि यह आदेश पूरे देश पर लागू नहीं होगा। अदालत दो हफ्ते बाद इस मामले पर सुनवाई करेगी। जमीयत उलेमा ए हिंद ने कोर्ट ने याचिका दाखिल कीबुधवार को दिल्ली नगर निगम ने जहांगीरपुरी में अवैध निर्माण गिराने की कार्रवाई शुरू की थी। लेकिन कार्रवाई शुरू होने के एक घंटे के भीतर ही सुप्रीम कोर्ट ने इस ऑपरेशन पर रोक लगा दी।

दरअसल, जमीयत उलेमा ए हिंद ने MCD की कार्रवाई के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में दो याचिकाएं दाखिल की थीं। कोर्ट से अपील की बुलडोजर चलाने की प्रवृत्ति पर रोक लगाने का आदेश दें इनमें से पहली याचिका में बिना नोटिस के बुलडोजर चलाकर स्थानीय लोगों को उनके बुनियादी नागरिक अधिकार से वंचित करने की बात कही गई थी। वहीं, दूसरी अर्जी में देश के कई राज्यों में किसी भी आरोप के लिए अचानक बुलडोजर चलाने की सरकारी प्रवृत्ति पर रोक लगाने का आदेश देने की अपील की गई थी।

Leave A Reply

Your email address will not be published.