राहुल गांधी ने संसद से विजय चौक तक विपक्ष के मार्च का किया नेतृत्व : अजय मिश्रा बर्खास्त

0 43

नई दिल्ली : लखीमपुर खीरी हिंसा मामले में गिरफ्तार 12 राज्यसभा सांसदों के निलंबन और केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा के बेटे को बर्खास्त करने की अपनी मांग के समर्थन में विपक्षी दलों ने मंगलवार को विरोध मार्च निकाला। विपक्ष का मार्च संसद परिसर में गांधी प्रतिमा से विजय चौक तक शुरू हुआ

विपक्ष की मांग टेनी हो बर्खास्त

विपक्षी दल लखीमपुर हिंसा में शामिल होने को लेकर गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा टेनी के इस्तीफे की मांग कर रहे हैं और 12 राज्यसभा सांसदों के निलंबन को रद्द करने की भी मांग कर रहे हैं। 3 अक्टूबर को लखीमपुर हिंसा में चार किसानों समेत आठ लोगों की मौत हो गई थी। गौरतलब है कि इन दोनों मुद्दों पर राज्यसभा की कार्यवाही बार-बार बाधित हुई है

विजय चौक पर पत्रकारों से बात करते हुए कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कहा कि विपक्ष संसद में लखीमपुर की घटना पर चर्चा चाहता है लेकिन सरकार भाग रही है. उन्होंने अजय मिश्रा को बर्खास्त करने की मांग दोहराई। उन्होंने कहा एक मंत्री के बेटे ने किसानों की हत्या की, रिपोर्ट ने इसे साजिश बताया है अकेली घटना नहीं। PM इसके बारे में कुछ नहीं करते हैं। आप माफी मांगते हैं किसानों से, लेकिन मंत्री को नहीं हटाते।

SIT ने अदालत को बताया था

आपको बता दें कि विशेष जांच दल (SIT) ने स्थानीय अदालत को बताया कि लखीमपुर खीरी हिंसा जिसमें चार किसानों सहित आठ लोग मारे गए थे, जिसके के बाद विपक्ष ने मंत्री की बर्खास्तगी की मांग को फिर से शुरू कर दिया, यह एक पूर्व नियोजित साजिश थी।

लखीमपुर खीरी कांड में दो अलग-अलग प्राथमिकी दर्ज की गयी थी। SIT ने चार किसानों और पत्रकार की मौत के मामले में पहली प्राथमिकी में आशीष मिश्रा टेनी समेत 13 लोगों को गिरफ्तार किया था। हिंसा के दौरान भाजपा के दो कार्यकर्ताओं और एक ड्राइवर की मौत के मामले में दूसरी प्राथमिकी में एसआईटी ने चार लोगों को गिरफ्तार किया था।

Leave A Reply

Your email address will not be published.