राम मंदिर भूमि पूजन पीएम मोदी के दौरे से पहले अफसरों का अयोध्या में डेरा

0 162

अयोध्या : राममंदिर के भूमि पूजन के साथ अयोध्या के वृहद विकास के लिए अरबों रुपये की सौगात देने पांच अगस्त को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी अयोध्या आ रहे हैं प्रधानमंत्री के अयोध्या दौरे से पहले सभी व्यवस्थाओं को मूर्त रूप देने के लिए प्रदेश शासन के उच्चाधिकारियों ने अयोध्या में डेरा डाल दिया है। इसी सिलसिले में प्रदेश के अपर मुख्य सचिव सिचाई/नोडल अधिकारी टी. वेकटेश, अपर मुख्य सचिव पीडब्लूडी, प्रमुख सचिव आवास, प्रमुख सचिव परिवहन व प्रबन्ध निदेशक परिवहन सोमवार को अयोध्या पहुंचे।

शासन के उच्चाधिकारियों ने सर्किट हाउस में मण्डलायुक्त एमपी अग्रवाल, जिलाधिकारी अनुज कुमार झा व नगर आयुक्त डॉ.नीरज शुक्ल के साथ प्रधानमंत्री के आगमन से संबंधित तैयारियों की समीक्षा की। इस अवसर पर प्रधानमंत्री के जनपद आगमन व राममंदिर भूमि पूजन को भव्य रूप प्रदान करने के संबंध में चर्चा की गई। बैठक में बताया गया कि कार्यक्रम का बड़ी स्क्रीनों के माध्यम से प्रमुख स्थलों एवं मंदिरों से सीधा प्रसारण कराया जायेगा। इसी के साथ चार व पांच अगस्त को अयोध्या व फैजाबाद शहर में दीवाली मनायी जायेगी। प्रमुख मंदिरों व स्थलों पर बेहतर लाइटिंग व फसाद लाइटें लगाई जायेगी।

घाटों के सौन्दर्यीकरण के साथ प्रमुख कुण्डों का होगा जीर्णोद्धार

अपर मुख्य सचिव व नोडल अधिकारी श्री वेंकटेश की अध्यक्षता में आयोजित इस बैठक के दौरान भूमि पूजन कार्यक्रम में वीवीआईपी आगमन को देखते हुए सुरक्षा के बेहतर इंतजाम किये जाने व बैरिकेडिंग किये जाने पर भी चर्चा की गई। इस दौरान अयोध्या शहर की बेहतर साफ-सफाई भी सुनिश्चित कराने के निर्देश दिये गये। बैठक में जिलाधिकारी अनुज कुमार झा ने अयोध्या के सर्वांगीण विकास के लिए जनपद में किये जा रहे कार्यों के साथ भविष्य की योजनाओं जैसे गुप्तार घाट से राम की पैड़ी तक के घाट का सौन्दर्यीकरण, प्रमुख कुण्डों के जीर्णोद्धार कराने की योजना पर भी चर्चा की।

राम मंदिर को जोड़ने वाली छोटी सड़कों का अपग्रेडेशन होगा
इस अवसर पर राम मंदिर को जोड़ने वाली छोटी सड़कों के अपग्रेडेशन कराये जाने व अयोध्या- फैजाबाद शहर में सीवर लाइन की बेहतर व्यवस्था के साथ सम्पूर्ण नगर के लिए विकास योजनाओं पर चर्चा की गई। इस अवसर पर निर्माणाधीन बस अड्डा के सभी कार्यों को प्रत्येक दशा में तीन अगस्त तक पूर्ण करने के लिए भी संबंधित कार्यदायी संस्था को निर्देशित किया गया।

Leave A Reply

Your email address will not be published.