पारंपरिक ऊर्जा संसाधनों का उपयोग कर बचाएं बिजली की खपत

वाद विवाद प्रतियोगिता में 50 छात्र-छात्राओं ने लिया हिस्सा

0 38

मिल्कीपुर-अयोध्या। आचार्य नरेंद्र देव कृषि एवं प्रौद्योगिक विश्वविद्यालय की ओर से राष्ट्रीय ऊर्जा संरक्षण दिवस के अवसर पर राम निवास सिंह पीजी कॉलेज, बवां में जागरूकता कार्यक्रम आयोजित किया गया। कार्यक्रम का आयोजन विश्वविद्यालय के कुलपति डा बिजेंद्र सिंह के दिशा निर्देशन में किया गया। इस दौरान लगभग 50 बच्चों ने वाद विवाद प्रतियोगिता में भी प्रतिभाग किया। कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहीं सामुदायिक विज्ञान महाविद्यालय की अधिष्ठाता डॉ नमिता जोशी ने कहा कि हमें प्राकृतिक ऊर्जा संसाधनों का कम उपयोग करके पारंपरिक ऊर्जा संसाधनों का अधिक उपयोग करना चाहिए। उन्होंने कहा की अनावश्यक बिजली नहीं खर्च करें, जितनी बिजली की आवश्यकता हो उतनी ही बिजली का उपयोग करें। डा. जोशी ने लोगों को जागरूक करते हुए कहा कि बिजली की खपत को बचाने के लिए अधिक से अधिक सौर ऊर्जा का प्रयोग करें। कार्यक्रम संयोजक डॉ अर्जुन पौल ने सौर ऊर्जा का दैनिक जीवन में उपयोग एवं उससे चलने वाले उपकरणों का रखरखाव एवं सावधानियां के बारे में विस्तार से जानकारी दी। उन्होने बताया की सोलर पंप लगाने के लिए सरकार की ओर से अधिक सब्सिडी दी जा रही है इसका सभी को लाभ लेना चाहिए। इस दौरान वाद विवाद प्रतियोगिता का भी आयोजन किया गया जिसमें स्कूल के लगभग 50 बच्चों ने हिस्सा लिया। विजेता प्रतिभागियों को डा. नमिता जोशी ने पुरस्कार देकर सम्मानित किया। कार्यक्रम को सफल बनाने में महामाया कॉलेज ऑफ एग्रीकल्चरल इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी, अंबेडकर नगर के अधिष्ठाता डॉ आरके मेहता का सहयोग सराहनीय रहा। इस मौके पर सहायक प्राध्यापक डॉ मनीष कुमार, शिक्षक राम देव सिंह, डॉ अनिल सिंह, डॉ देवेश पांडे सहित कॉलेज के छात्र-छात्राएं मौजूद रहे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.