सड़क किनारे निराश्रय वृद्ध को देखा तो मल्टीनेशनल नौकरी छोड़ रख दी वृद्धाश्रम की नींव

रवीन्द्र मानव सेवा संस्थान ने वृद्धाश्रम नहीं मानव मंदिर का निर्माण किया है - डॉ दिनेश शर्मा

0 13

 

लखनऊ। रवीन्द्र मानव सेवा संस्थान द्वारा निर्माणाधीन नरपत खेड़ा, पारा में वृद्धाश्रम की नींव शनिवार को गीता जयंती पर पूर्व उपमुख्यमंत्री डॉ दिनेश शर्मा तथा ब्राह्मण परिवार के केन्द्रीय अध्यक्ष शिव शंकर अवस्थी ने रखी। संस्थान 2014 से सक्रिय रूप से समाज सेवा का कार्य कर रहा है और केजीएमयू में हर रविवार को निःशुल्क भोजन वितरण करने के बाद अब वृद्धाश्रम की नींव रखी गई है।

पूर्व उपमुख्यमंत्री डॉ दिनेश शर्मा ने संस्थापक व अध्यक्ष रितेन्द्र नाथ मिश्रा को शुभकामनाएं व बधाई देते हुए कहा कि यूं तो भारतीय समाज को वृद्धाश्रम की जरूरत ही नहीं होनी चाहिए लेकिन संस्थान द्वारा निर्माणाधीन इस कार्य से समाज को बहुत सम्बल मिलेगा। उन्होंने कहा कि यह वृद्धाश्रम नहीं बल्कि मानव मंदिर का निर्माण किया है संस्थान ने।

ब्राह्मण परिवार के केन्द्रीय अध्यक्ष शिव शंकर अवस्थी ने रवीन्द्र मानव सेवा संस्थान की सराहना करते हुए कहा कि आज की भागदौड़ भरी जिंदगी में लोग पढ़ने देश या विदेश जाते हैं और अपने वृद्ध माता पिता को असहाय छोड़ देते हैं। यह वृद्धाश्रम ऐसे निराश्रय लोगों को सहारा देने का काम करेगा।

श्री राम जानकी मंदिर के महंत कौशल दास जी महाराज ने आयोजकों को साधुवाद देते हुए कहा कि संस्थान के कार्यों को देखते हुए पूरा विश्वास है कि यहां निराश्रित वृद्धों की देखभाल उचित तरीके से होगी।

अध्यक्ष रितेन्द्र नाथ मिश्रा ने बताया कि एक मल्टीनेशनल कंपनी में नौकरी करने के दौरान कोटा में उन्होंने सड़क पर एक निराश्रय वृद्ध को देखा तो उसी दिन प्रण कर लिया कि एक दिन ऐसे लोगों के लिए मजबूत छत का निर्माण करना है और अब नौकरी छोड़ कर समाज सेवा कर रहा हूं। स्वयं संयुक्त परिवार में रहने वाले रितेन्द्र ने कहा कि लगभग 5 हजार फुट के इस वृद्धाश्रम का निर्माण एक वर्ष में पूरा हो जाएगा और यहां असहाय बुजुर्गों की देखभाल परिवार के वरिष्ठ सदस्य के रूप में की जाएगी। कार्यक्रम में पूर्व पार्षद नागेन्द्र सिंह, पार्षदगण रेखा भटनागर और रेखा सिंह मौजूद रही।

Leave A Reply

Your email address will not be published.