Sitapur Breaking News

0 88

नरसोही पोलिंग बूथ पर मतपेटी में डाला पानी

सीतापुर : कोतवाली देहात इलाके में नरसोही पोलिंग बूथ पर मतदाता सूची में गड़बड़ी का आरोप लगाकर लोगों ने बवाल किया। पोलिंग बूथ के अंदर घुसकर पीठासीन अधिकारी से अभद्रता करते हुए मटपेटियों में पानी डाल दिया। सूचना पर पहुंचे अफसरों ने माहौल शांत कराया। करीब एक घंटे तक मतदान ठप रहा। कोतवाली देहात इलाके के नरसोही पोलिंग बूथ पर गुरुवार को कुछ लोगों ने मतदाता सूची में नाम न होने को लेकर हंगामा शुरू कर दिया। पुलिस की मौजूदगी के बावजूद ये लोग पोलिंग बूथ के अंदर घुस गए। मतपेटी में पानी डाल दिया। मेज पर रखे दस्तावेज उलट दिए। एसडीएम सदर अमित भट्ट, सीओ सिटी पीयूष कुमार सिंह मौके पर पहुंचे और मामले को शांत कराया।सीओ सिटी ने बताया कि मतदाता सूची में नाम नहीं होने को लेकर गुस्साए लोगों ने पोलिंग बूथ के अंदर घुसकर पीठासीन अधिकारी से अभद्रता की है। मतपेटी में पानी डालने का प्रयास किया। बताया कि प्रधान पक्ष के समर्थक बताए जा रहे हैं। घटना होने की वजह से 20 से 30 मिनट तक मतदान रुक गया था। महोली के सिंघौड़ा में भी दो पक्षों के बीच मारपीट हुई है। यहां भी मतदाता सूची में नाम नहीं होने और गड़बड़ी करने को लेकर विवाद हुआ है। मारपीट में दोनों पक्षों के लोगों को चोटें आनी बताई जा रही हैं।

गांव की सरकार बनाने के लिए 65 फीसदी मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया

सीतापुर :  गांव की सरकार बनाने के लिए 65 फीसदी मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया। इनके मतों से 1587 प्रधान पदों के भाग्य का फैसला मतपेटियों में कैद हो गया है। छिटपुट घटनाओं के बीच प्रधान सहित चार पदों के लिए मतदान प्रक्रिया गुरुवार को संपन्न हो गई। सभी ब्लॉक क्षेत्र में मतगणना स्थलों के स्ट्रांग रूम में देर रात तक मतदान केन्द्रों से पीठासीन अफसरों द्वारा लाई गई मतपेटियों को जमा किया गया। डीएम विशाल भारद्वाज, एसपी आरपी सिंह ने मतदान केन्द्रों का मुआयना किया। प्रेक्षक जावेद अख्तर ने भी मतदान केन्द्रों का जायजा लिया।

जिले के 1858 मतदान केन्द्रों पर गुरुवार को प्रधान के 1587 सहित जिला पंचायत सदस्य, बीडीसी एवं ग्राम पंचायत सदस्यों का चुनाव करने के लिए मतदाताओं ने मताधिकार को प्रयोग किया। सुबह सात बजे से ही बूथों पर लाइनें लगने लगीं। चिलचिलाती धूप भी पंचायत चुनाव के महापर्व में आहुति देने के लिए वोटरों को नहीं डिगा सकी। मतदाता धूप से बेफिक्र होकर मतदान के लिए लाइनों में लग गए। वोट डालने के बाद ही बूथ से हटे। महिला, वृद्ध, बीमार, दिव्यांगजनों में भी मतदान करने का उत्साह दिखा। वह अपने चहेते प्रत्याशी को वोट देने के लिए मतदान केन्द्रों पर अपनी बारी आने को इंतजार करते रहे।

मतदान करने के बाद खुशी-खुशी घर लौटे। तमाम मतदान केन्द्रों पर छाया की व्यवस्था एवं पर्याप्त जगह न होने बाद भी सर्किल के रूप में लाइनों में मतदाता खड़े नजर आए। डीएम विशाल भारद्वाज एवं एसपी आरपी सिंह ने भारत सिंह इंटर कॉलेज सहित अन्य मतदान केन्द्रों का भ्रमण कर कार्मिकों को निर्देश दिए। प्रेक्षक जावेद अख्तर वन संरक्षक बरेली वृत्त ने प्राथमिक विद्यालय मुबारकपुर, प्राथमिक विद्यालय सरैंया चौकी आदि का मुआयना किया। पंचायत मतदाता सूची में दर्ज 30 लाख 69 हजार 912 मतदाताओं में से 65 फीसदी वोटरों ने अपने मताधिकार का प्रयोग कर प्रधान सहित चार पदों के प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला मतपेटी में कैद किया है। विजय पताका कौन प्रत्याशी फहराएगा, यह तो दो मई को मतगणना के बाद ही मालूम होगा।

मतदाता सूची में नाम न होने पर हंगामा

सीतापुर  : कोतवाली देहात इलाके में गुरुवार को मतदाता सूची में नाम न होने पर हंगामा कर रहे लोगों को तितर-बितर करने के लिए पुलिस ने हल्का बल का प्रयोग किया। पुलिस ने महिलाओं, पुरुषों को खदेड़ा। कोतवाली देहात इंस्पेेक्टर का एक महिला को लाठी से मारने का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है, इससे पुलिस महकमे की खूब किरकिरी हो रही है। कोतवाली देहात इलाके के शाह महोली पोलिंग सेंटर पर गुरुवार को मतदान हो रहा था। गांव से कुछ पुरुष व महिलाएं वोटिंग करने के लिए पोलिंग स्टेशन पर गई थीं, लेकिन मतदाता सूची में इनका नाम नहीं था। इसको लेकर यह लोग मतदान केंद्र से दूर सड़क के दूसरी ओर नाराजगी जताते हुए हंगामा करने लगे। यहां पर कोतवाली देहात इंस्पेक्टर ओपी तिवारी तैनात थे।

हंगामा बढ़ता देख कोतवाल आगे बढ़े और पुलिस टीम के साथ लोगों को मौके से खदेड़ने के लिए हल्का बल का प्रयोग किया। पुलिस के लाठियां फटकारने के बाद लोग मौके से तितर-बितर हो गए। इस पूरे मामले का किसी ने वीडियो बना लिया और उसे सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया है। वीडियो में कोतवाल आगे बढ़ते हैं और एक महिला को लाठी से हूरने के बाद वह और उनकी टीम महिलाओं, पुरुषों को दौड़ाने के लिए लाठियां फटकारती है। इसी बीच कोतवाल एक महिला को तेजी से लाठी मारते हुए वीडियो में दिख रहे हैं। पुलिस के लाठियां फटकारने के बाद भीड़ चली गई, लेकिन पुलिस के इस रवैये को लेकर गांव के लोगों में आक्रोश है। सोशल मीडिया पर ये वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस की फजीहत हो रही है। सूचना पाकर एसडीएम सदर अमित भट्ट, सीओ सिटी मौके पर पहुंचे और मामले की जानकारी ली। मतदाता सूची से नाम कटने को लेकर लोग हंगामा कर रहे थे। इसको लेकर पुलिस ने उन्हें मौके से खदेड़ा है। किसी ने इसका वीडियो बनाकर वायरल कर दिया है।

 पेटी में पानी डाल खराब किए मतपत्र

लहरपुर सीतापुर:  कोतवाली तालगांव इलाके में मतदाता सूची में नाम न होने पर भड़के लोगों ने जमकर बवाल किया। पोलिंग बूथ से मतपेटियां लेकर भागने में कामयाब न होने पर उसमें पानी डालकर मतपत्र खराब कर दिए। हंगामे की सूचना पर मौके पर पहुंचे जोनल मजिस्ट्रेट, एसडीएम और सीओ ने लोगों को समझाकर शांत कराया। करीब दो घंटे तक मतदान प्रभावित रहा है। मत पेटी में पड़े मतों को निरस्त कराकर नई सूची से मतदान प्रक्रिया दोबारा से शुरू कराई।

तालगांव इलाके की पंचायत समैसा के प्राथमिक विद्यालय उदयभानपुर में गुरुवार को वोटिंग हो रही थी। वार्ड संख्या 9 के अंदर की मतदाता सूूची में वोटरों के नाम नहीं थे। इसी को लेकर बात विवाद होने लगा। मामला बढ़ने पर जिन लोगों के नाम सूची में नहीं थे, उन्होंने हंगामा करते हुए मतपेटी लेकर भागने का प्रयास किया। वहां मौजूद पुलिस जवानों ने उन्हें रोककर उनके कब्जे से मतपेटियों को छीन लिया। गुस्साए लोगों ने इस बीच मत पेटी में पानी डाल दिया। इससे मतपत्र खराब हो गए।मामले की सूचना मिलते ही पुलिस प्रशासन के होश उड़ गए। जोनल मजिस्ट्रेट, एसडीएम पीएल मौर्य, सीओ यादुवेन्द्र यादव मौके पर पहुंचे और ग्रामीणों को शांत कराकर माहौल में काबू में किया। मतपेटी में करीब 85 मत पड़ चुके थे। इन सभी मतों को निरस्त कराकर नई सूची से मतदान की प्रक्रिया शुरू कराई गई। हंगामा और बवाल की वजह से करीब दो घंटे तक मतदान की प्रक्रिया ठप रही। इसका असर वोटिंग प्रतिशत पर भी पड़ने की आशंका जताई जा रही है। पोलिंग बूथ पर घटना के बाद पुलिस प्रशासन की सक्रियता और बढ़ गई है। सीओ लहरपुर यादुवेंद्र यादव ने बताया कि सूची में नाम न होने को लेकर विवाद हो गया था। मतपत्र निरस्त करा दिए गए हैं। उनका दावा है कि मतपेटी में पानी डालने की कोशिश की गई थी। अब हालात पर पूरी तरह से सामान्य हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.