जनपद में अब तक करीब 9 हजार लोगों ने आयुष्मान का लिया लाभ

0 30

मथुरा : जनपद में अब तक करीब नौ हजार लोगों ने आयुष्मान कार्ड से अपना फ्री इलाज कराया है। आप भी इस योजना का लाभ ले सकते हैं। इसके लिए आप को आयुष्मान कार्ड बनवाना होगा। कार्ड बनवाने का अवसर भी आप के पास है। जनपद में 18 अप्रैल से 22 अप्रैल के बीच एक दिवसीय ब्लॉक स्तरीय स्वास्थ्य मेले का आयोजन किया जायेगा। इसमें आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना और पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना के बारे में विस्तार से जानकारी दी जाएगी स इस संबंध में मुख्य कार्यकारी अधिकारी ए.बी पीएमजेएवाई स्टेट हेल्थ एजेंसी ने मुख्य चिकित्सा अधिकारी को पत्र भेजा है।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ.अजय कुमार वर्मा ने बताया कि एक दिवसीय ब्लॉक स्तरीय स्वास्थ्य मेले से संबंधित तैयारियां की जा रही हैं। स्वास्थ्य मेले में आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना से संबंधित सभी अस्पतालों की सूची प्रदर्शित की जाएगी। आशा कार्यकर्ता योजना के लाभार्थियों को मेला स्थल तक ले जाएंगे और उनका आयुष्मान कार्ड बनवाने में सहयोग करेंगी स मेला स्थल पर जागरूकता सामग्री के माध्यम से आयुष्मान भारत- प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना और पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना से संबंधित स्टॉल प्रमुख रूप से प्रदर्शित किए जाएंगे।

आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के नोडल अधिकारी डॉ. अनुज कुमार ने बताया कियोजना के तहत जिले में करीब 7.20 लाख लाभार्थी हैं, जिसके सापेक्ष करीब 1.4 लाख लाभार्थी ऐसे हैं जिनके किसी न किसी सदस्य के पास आयुष्मान कार्ड है। अब तक जनपद के करीब 9 हजार लोगों ने आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के तहत मुफ्त इलाज का लाभ लिया है। उन्होंने बताया कि आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के तहत प्रति वर्ष प्रति लाभार्थी परिवार को पांच लाख रुपए तक की इलाज की सुविधा भर्ती होने के बाद निःशुल्क उपलब्ध कराई जाती है।

किस का बन सकता है कार्ड, कहां मिलता है इलाज आयुष्मान भारत जन आरोग्य योजना के जिला ग्रीवांस प्रबंधक सौरभ शर्मा ने बताया कि आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के तहत आयुष्मान कार्ड उन्हीं लोगों का बनाया जाता है, जो लोग योजना में पहले से सूचीबद्ध हैं। योजना का लाभ सूचीबद्ध सरकारी अस्पतालों के अलावा निजी अस्पतालों से भी प्राप्त किया जा सकता है। जिले में कुल सूचीबद्ध अस्पताल 45 है, जिसमें 15 सरकारी अस्पताल और 30 निजी अस्पताल योजना के तहत सूचीबद्ध हैं।

आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के बारे में अतिरिक्त जानकारी के लिए अपने क्षेत्र की आशा कार्यकर्ता से भी मदद ले सकते हैं। इन बीमारियों का होता है इलाज जिला स्वास्थ्य शिक्षा एवं सूचना अधिकारी जितेंद्र सिंह ने बताया कि योजना के तहत मातृ स्वास्थ्य और सी-सेक्शन या उच्च जोखिम प्रसव की सुविधा, नवजात और बच्चों के स्वास्थ्य, कैंसर, टीवी, कीमोथेरपी, रेडिएशन थेरेपी, हार्ट बाईपास सर्जरी, न्यूरो सर्जरी, आंखों की सर्जरी, दिल की बीमारी, किडनी, लीवर, कोरोनरी बायपास, घुटना प्रत्यारोपण, स्टंट डालना, आंख, नाक, कान और गले से संबंधित बीमारी आदि शामिल हैं। लाभार्थी किसी भी संबद्ध निजी और सरकारी अस्पताल, सहज जनसेवा केंद्र और कामन सर्विस सेंटर से आयुष्मान कार्ड बनवा सकते हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.