समाजसेवी सुदामा ने सौंपा ज्ञापन, किसान को न्याय, मुआवजा दिलाने की मांग

0
क्रय केन्द्र पर नहीं सुनी किसान की आवाज तो गन्ने के फसल में लगा दी आग
समाजसेवी सुदामा ने सौंपा ज्ञापन, किसान को न्याय, मुआवजा दिलाने की मांग

बस्ती : (आरएनएस) केन्द्र और उत्तर प्रदेश के जिम्मेदार मंत्री जहां दावा कर रहे हैं कि सरकार किसान हितों के प्रति समर्पित हैं वहीं बस्ती जनपद के विकास खण्ड परसुरामपुर में गन्ना क्रय केंद्र की मनमानी पर जिलाधिकारी द्वारा लगाम न लगायेे जाने से परेशान एक किसान रक्षाराम वर्मा  द्वारा अपने गन्ने की फसल को आग लगाकर अपनी वेदना सोशल मीडिया पर वायरल करने का मामला सामने आया है।

पीड़ित किसान ने चन्द्रमणि पाण्डेय सुदामा को जानकारी दिया। इसे गंभीरता से लेते हुये उन्होने मंगलवार को जिलाधिकारी के प्रशासनिक अधिकारी को ज्ञापन देकर मामले की जानकारी दी। समाजसेवी चन्द्रमणि पाण्डेय सुदामा ने बताया  कि धान व गन्ना केन्द्रों पर व्याप्त व्यापक अनियमितता के चलते किसानों को काफी समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है । इनके द्वारा सामान्य किसान के धान व गन्ने की खरीद न करने के कारण किसान अपनी उपज को औने पौने दाम पर बेचने को विवश हैं ।

बताया कि स्थिति ये है कि कि किसान अपनी फसल को खुद आग लगाने को विवश हैं । ऐसा ही एक मामला आज विकास खंड परसुरामपुर के कोहरायें गन्ना क्रय केंद्र का सामने आया है जहां के स्थानीय किसान रक्षाराम वर्मा ने माफियाओं की मनमानी के चलते खुद अपने कई एकड़ गन्ने को आग लगा दिया।  कारण 15 दिनों से तैयार उसका दो पर्ची गन्ने की तौल आज तक नही हुआ जिसकी शिकायत किसान ने जिलाधिकारी बस्ती से कई बार किया गया किन्तु उनके द्वारा मामले को गंभीरता से न लेने व क्रय केंद्रों की मनमानी पर लगाम न लगाने के चलते उसका गन्ना सूख गया । इससे किसान मानसिक रूप से इतना पीड़ित हुआ कि उसने अपने गन्ने की फसल को खुद आग लगा दिया
समाजसेवी ने उक्त क्रय केंद्र के जिम्मेदारों पर कार्यवाही सुनिश्चित कराते हुए किसान को हुई मानसिक व फसल हानि का प्रतिपूर्ति दिलाते हुए गन्ना मीलों द्वारा व शासन के अधिकारियों द्वारा समय समय पर औचक निरीक्षण कराते हुए क्रय केंद्रों को माफिया मुक्त कराने की मांग किया। कहा कि  भविष्य में कोई किसान ऐसा करने को विवश न हो । यदि किसानों में इस तरह की उदासीनता आयेगी तो किसान खेती छोड़ने को विवश हो जायेगा जिसके परिणाम भयावह होंगे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

en_USEnglish