दबे कुचले गरीबों व वंचितों को जगाएगी सुभासपा की सावधान यात्रा: ओम प्रकाश राजभर

0 16

लखनऊ। सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर सोमवार को “सावधान यात्रा रथ” पर सवार होकर एक महीने के कार्यक्रम पर रवाना हुए। पार्क रोड स्थित पार्टी कार्याललय से रवानगी से पूर्व उन्होंने कहा कि आजादी के 75 साल में पहली बार राजनीति में अर्कवंशी, बहेलिया जैसी जातियों की की चर्चा हो रही है। नाई, गोंड, प्रजापति, बिंद जैसी जातियों का प्रयोग सिर्फ वोट के लिए राजनीतिक दल करते रहे हैं। यह सावधान यात्रा इन लोगों को जगाने के लिए है। रैलियों के माध्यम से इन लोगों को बताया जाएगा कि जबतक जातीय जनगणना नहीं होगी उन्हें उनका हक नहीं मिलेगा।
उन्होंने कहा कि सुभासपा जातीय जनगणना के आधार पर समाज के सभी वर्घ के लोगों खासकर दबे, कुचे और गरीबों को भागीदारी दिलाएगी। आरोप लगाया कि जब नेता सत्ता में रहते हैं तो उनके समझ में यह नहीं आता है कि जब नौकरी में आवेदन करता है तो पेपर एक ही होता है। हमारी पार्टी ने तय किया है कि जब देश का संविधान एक है, राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री एक हैं तो शिक्षा भी एक समान होनी चाहिए। सबको समान भादीगारी मिलनी चाहिए। एक शिक्षा, अनिवार्य शिक्षा और मुफ्त शिक्षा की लड़ाई लड़ने के लिए जनता को तैयार किया जाएगा।
उन्होंने कहा कि 5.5 साल से वह विधानसभा में हैं और 9.38 करोड़ रुपये गरीबों के इलाज के लिए दे चुके हैं। अब इस देश में एक कानून बने गरीब किसी भी जाति का हो उसके इलाज व आपरेशन का खर्च सरकार दे। लोगों को रोजगार चाहिए। आज नौजवान बेरोजगार हो रहे हैं। कक्षा चार से ही रोजगारपरक शिक्षा दी जाए। तकनीकी शिक्षा के 100 विषय बनें। रैलियोंक के माध्यम से जनता को जागरूक किया जाएगा कि कोई भी नेता उनके बीच आए तो उससे रोजगारपरक शिक्षा की बात करें। उदाहरण दिया कि बाइक बनाने की शिक्षा लेने वाला युवा जिस दिन पढ़ाई छोड़ेगा तत्काल रोजगार से जुड़ जाएगा।
उन्होंने बताया कि सोमवार 26 सितंबर से शुरू हो रही यह सावधान यात्रा यूपी के 75 जिलों से होते हुए 27 अक्तूबर को गांधी मैदान पटना में पहुंचेंगी जहां पर विशाल जनसभा के बाद सावधान यात्रा का समापन होगा। उन्होंने बताया कि 2004 से ही उनकी पार्टी बिहार में लोकसभा और विधानसभा का चुनाव लड़ रही है। आने वाले लोकसभा चुनाव में बिहार में भी मजबूती से चुनाव लड़ेंगे।
उन्होंने कहा कि बिहार में इस समय सत्ता में राजद और जदयू है। नीतीश कुमार ने जातिवार जनगणना कराने की बात कही थी आज तक पहल नहीं हुई। सवाल वहीं है। पहले कहते थे कि लोग रोकते हैं। अब नीतीशऔर तेजस्वी दोनों मुफ्त शिक्षा और गरीबों को मुफ्त इलाज की व्यवस्था करें। जो सत्ता में रहेगा सवाल उसी से होगा। सपा प्रमुख अखिलेश यादव के बारे में कहा कि जब वह सत्ता में रहते हैं तो जातिवार जनगणना की बात नहीं करते हैं। सत्ता से बेदखल होने पर जातिवार जनगणना की बात करते हैं। डा. अंबेडकर ने हर दस साल पर जातिवार जनगणना की बात कही थी।
शिवपाल द्वारा संभल में दिए गए बयान पर बोलें कि चाचा और भतीजे का दर्द कहीं ना कहीं झलक ही जाता है। अखिलेश नहीं चाहते थे कि शिवपाल साथ आएं। तमाम वरिष्ठ नेता हैं जो सपा से नाराज हैं। सत्ता पाने का प्रयास जिस तरीके से करना चाहिए सपा उस तरह से अपने अनुभवी लोगों का लाभ नहीं ले पा रही है।
ओम प्रकाश राजभर ने बताया कि वह पूर्वाचंल और बिहार की रैलियों में अधिक समय देंगे। पश्चिमी यूपी में जहां बड़ी रैलियां होंगी वहां भी जाएगां। वह खुद यूपी में 33 सभाओं को संबोधित करेंगे। अन्य रैलियों को पार्टी के प्रमुख राष्ट्रीय महासचिव अरविंद राजभर, राष्ट्रीय प्रमुख प्रवक्ता अरुण राजभर, प्रदेश अध्यक्ष विच्छेलाल राजभर आदि नेता संबोधित करेंगे।  उन्होंने बताया कि कालूराम प्रजापति के नेतृत्व में बुंदेलंखंड, प्रेमचंद्र कश्यप के नेतृत्व में पश्चिमी यूपी में तथा अमर मणि कश्यप के नेतृत्व में मध्यांचल में सावधान यात्रा किया जा रहा है। गौरतलब है कि पार्क रोड स्थित पार्टी कार्यालय से सावधान रथयात्रा को हरी झडी दिखाकर रवाना करने के बाद ओम प्रकाश राजभर खुद अंबेडकर नगर के लिए रवाना हुए जहां आज यात्रा की पहली रैली रखी गई थी।

Leave A Reply

Your email address will not be published.