मुख्यमंत्री ने प्रमुख सचिव पशुपालन को शासकीय व निजी क्षेत्र में संचालित सभी गो-आश्रय

0 121

जिलाधिकारी अपने जनपद में इस कार्य की गहन माॅनिटरिंग करें

गो-आश्रय स्थलों में संरक्षित गोवंश के जाड़े से बचाव के लिए सभी जरूरी प्रबन्ध किए जाएं

गो-आश्रय स्थलों पर हरे चारे की पर्याप्त उपलब्धता सुनिश्चित की जाए

संरक्षित गोवंश का नियमित स्वास्थ्य परीक्षण कराए जाने के निर्देश

मुख्यमंत्री  : योगी आदित्यनाथ  ने प्रमुख सचिव पशुपालन को शासकीय व निजी क्षेत्र में संचालित सभी गो-आश्रय स्थलों का मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारियों के माध्यम से नियमित निरीक्षण कराने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा है कि समस्त गो-आश्रय स्थलों में आवश्यक व्यवस्थाएं सुनिश्चित की जाएं। उन्होंने जिलाधिकारियों को अपने-अपने जनपद में इस कार्य की गहन माॅनिटरिंग करने के निर्देश दिए हैं

मुख्यमंत्री  ने यह निर्देश आज यहां अपने सरकारी आवास पर आहूत एक उच्च स्तरीय बैठक में दिए। उन्होंने कहा कि गो-आश्रय स्थलों में संरक्षित गोवंश के जाड़े से बचाव के लिए सभी जरूरी प्रबन्ध किए जाएं। यह भी सुनिश्चित किया जाए कि गो-आश्रय स्थलों पर हरे चारे की पर्याप्त उपलब्धता बनी रहे। उन्होंने गो-आश्रय स्थलों में संरक्षित गोवंश का नियमित स्वास्थ्य परीक्षण कराए जाने के निर्देश दिए हैं

मुख्यमंत्री  ने कहा कि गोवंश के संरक्षण से जहां निराश्रित/बेसहारा गोवंश को आश्रय प्राप्त हुआ, वहीं कृषकों को होने वाली फसल हानि से भी बचाव हो रहा है। इसलिए यह सुनिश्चित किया जाए कि निराश्रित गोवंश सड़क पर विचरण न करे। इन्हें गो-आश्रय स्थलों में पहुंचाकर इनकी समुचित देखभाल की व्यवस्था की जाए

इस अवसर पर अपर मुख्य सचिव गृह  अवनीश कुमार अवस्थी, पुलिस महानिदेशक  हितेश सी0 अवस्थी तथा प्रमुख सचिव पशुपालन  भुवनेश कुमार सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.