विभाग का मानना है कि टीकाकरण पूरा होने से नई लहर को निष्क्रिय किया जा सकता है

0 95

दिल्ली : कोरोना की तीसरी लहर से पहले टीकाकरण पूरा होने को लेकर स्वास्थ्य विभाग भी चिंतित है। विभाग का मानना है कि टीकाकरण पूरा होने से नई लहर को निष्क्रिय किया जा सकता है लेकिन उसके लिए पर्याप्त वैक्सीन मिलना भी बहुत जरूरी है। दिल्ली में अब तक 1.03 करोड़ से अधिक टीकाकरण हो चुका है लेकिन इनमें से 27.88 लाख लोग ही दोनों खुराक लेकर टीकाकरण पूरा कर पाए हैं। अगर कुल आबादी के लिहाज से देखें तो यह आंकड़ा 25 से 26 फीसदी तक है। यानी अभी भी दिल्ली में चार में से तीन लोगों का टीकाकरण खत्म होना बचा है।

विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि अप्रैल और मई में दूसरी लहर ने राजधानी के ज्यादातर परिवारों को अपनी चपेट में लिया है। सीरो सर्वे के आधार पर यह कहा जा सकता है कि करीब 60 से 70 फीसदी आबादी एंटीबॉडी ग्रस्त हो चुकी है। हालांकि यह एंटीबॉडी तीन से चार महीने तक ही सुरक्षित रह सकती हैं जिसके दो महीने बीत चुके हैं। अब हमारे पास लगभग दो महीने और बचे हैं और इन्हीं में टीकाकरण पूरा हो जाता है तो नई लहर को आक्रामक होने से रोक सकते हैं। इससे अस्पतालों पर भी भार कम होगा। उन्होंने बताया कि वैक्सीन की आपूर्ति समय पर न होने की वजह से यह दिक्कतें आ रही हैं। उन्होंने कहा कि पिछले एक दो सप्ताह से हालात में मामूली रूप से सुधार जरूर हुआ है लेकिन 16 जनवरी से अब तक एक लंबी अवधि तक वैक्सीन के लिए ही लड़ाई लड़ते आए हैं। ऐसे में दिल्ली के लोग कब तक टीकाकरण पूरा कर पाएंगें? यह अभी भी सवाल कायम है

Leave A Reply

Your email address will not be published.