नगरायुक्त ने निराश्रित बालिकाओं के साथ मनायी दीपावली बालिकाओं से उनके स्वास्थय और समस्याओं की भी ली जानकारी

0 35

सहारनपुर : नगरायुक्त ज्ञानेंद्र सिंह ने बुधवार को अपने पूरे परिवार के साथ चकहरेटी स्थित बाल गृह बालिका पहुंचकर बालिकाओं के साथ दीपावली की खुशिया बांटी और उन्हें मिष्ठान व फल आदि भेंट कर उनके सुखद भविष्य की कामना की। नगरायुक्त ज्ञानेंद्र सिंह बुधवार की शाम अपनी पत्नी अंतिमा सिंह और दोनों बेटों के साथ अचानक चकहरेटी स्थित बाल गृह बालिका पहुंचे और वहां मौजूद सभी बालिकाओं के साथ दीपावली की खुशियां साझा की। बाल गृह में वह बालिकाएं निवास करती हैं जिन्हें विभिन्न मामलों से सम्बद्ध होने के कारण न्यायालय द्वारा यहां भेजा जाता है या जो जाने- अनजाने अपने घर से अकेले निकलकर भटक जाती हैं, तब उन्हें उनके अभिभावकों के आने तक यहां रखा जाता है।

नगरायुक्त ज्ञानेंद्र सिंह के परिवार सहित बाल गृह बालिका पहुंचने पर बाल गृह के प्रबंध निदेशक वी पी सिंह व अधीक्षक कु.पिंकी के अलावा सभी बालिकाओं ने उनका स्वागत किया। नगरायुक्त, उनकी पत्नी और उनके दोनों बेटों ने बालिकाओं को मिठाई, फल, कोल्ड ड्रिंक्स और पिज्जा आदि दीपावली के उपलक्ष्य में वितरित किया और दीपावली की शुभकामनाएं देते हुए उनके सुखद भविष्य की मंगल कामना की। उन्होंने और पत्नी श्रीमती अंतिमा सिंह ने बालिकाओं से उनके स्वास्थय, उनके रहन सहन व उनकी समस्याओं आदि के सम्बंध में भी जानकारी ली।

नगरायुक्त ज्ञानेंद्र सिंह ने बालिकाओं के मंगल जीवन की कामना करते हुए कहा कि जीवन में व्यक्ति से अक्सर गलती हो जाती है लेकिन जो उस गलती से सबक लेकर सुधार कर लेता है उसका जीवन सुखद और सफल हो जाता है। उन्होंने सभी बालिकाओं से कहा कि वे निराश न हो और अपने उज्ज्वल भविष्य के लिए सकारात्मक सोच के साथ अपने लक्ष्य का निर्धारण करें। उन्होंने बाल गृह की एक बालिका का उदाहरण देते हुए बताया कि एक बालिका ने वहां रहते हुए शिक्षा के क्षेत्र में नये आयाम स्थापित करते हुए पूरे प्रदेश में सहारनपुर का नाम रोशन कर चुकी है। बाल गृह बालिका की काउंसलर पूजा सैनी, कैंप इंचार्ज रवि कुमार व केयर टेकर अन्नु आदि भी मौजूद रहे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.