शिया वक्फ बोर्ड के पूर्व चैयरमैन की टिप्पणी पर भड़के मुस्लिम समुदाय के लोग

0 34

बहराइच(सिटीजन वॉयस संवाददाता) : समाजवादी पार्टी के अल्पसंख्यक सभा के नगर अध्यक्ष अजीमुद्दीन के नेतृत्व में सैकड़ों मुस्लिम समुदाय के लोगों ने शिया वक्फ बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष वसीम रिजवी द्वारा पैगंबर मोहम्मद साहब के की शान में आपत्तिजनक टिप्पणी की। जिससे गुस्साए लोगों ने वसीम रिजवी के खिलाफ जमकर प्रदर्शन करते हुए मुर्दाबाद के नारे लगाए और मुख्यमंत्री को सम्बोधित ज्ञापन नायब तहसीलदार को सौंपा। तकिया मस्जिद इमाम मौलाना शाहआलम ने कहा की मरदूद वसीम रिजवी जो बत्तहजीब किस्म का आदमी है, हम हर कुछ बर्दाश्त कर सकते हैं लेकिन गुस्ताख ए रसूल को बर्दाश्त हरगिज़ नहीं करेंगे। आज जो अल्फाज अदा किए हैं

वह घोर निंदनीय हैं जिसकी हम निंदा करते हैं और सरकार से मांग करते हैं कि इस मरदूद को सख्त से सख्त सजा दी जाए।समाजसेवी अजीमुद्दीन ने कहा इससे पहले भी यह कुरान की आयतों को लेकर टिप्पणी की थी। आज भारत जिसे सबसे बड़े धर्म निरपेक्ष राष्ट्र और गंगा जमुना तहज़ीब के लिए दुनिया जानती है उसकी आबोहवा खराब करने के लिये वसीम रिजवी जैसे इस्लाम के दुश्मन नफरत फैलाना शुरू कर दिये है। उन्होंने कहा कि हमारे नबी के सदके हमारी गर्दनें हमारी जान कुर्बान हैं मगर अब बर्दाश्त की हद पार हो गई है। हम सरकार से उन नफरत के बीज बोने वालों की गिरफ्तारी और फांसी की मांग करते हैं।

वसीम रिजवी ने कुछ लोगों से मिलकर ही चुनाव से पहले प्रदेश में दंगा कराने की नियत से पैगंबर हजरत मोहम्मद सा0 पर आपत्तिजनक टिप्पणी वाली पुस्तक भी प्रकाशित की जिस के कवर पेज पर चित्रकारी अशोभनीय ढंग से प्रकाशित किया गया है।पुस्तक में मनगढ़ंत और तथ्यहीन बातें करके लोगों में क्रोधित कर और कई जगहों पर दंगे भड़काने की भरपूर साजिश रची है।ऐसी अशोभनीय भाषा का प्रयोग आज तक भारत में किसी भी धर्म आस्था समुदाय के लिए पूर्व में नहीं किया गया। जिसको लेकर लोगों में रोष व्याप्त है। इस मौके पर सभासद शरीफ अहमद,समाजसेवी कमाल अहमद,सभासद फैजान अहमद,मुफीद अहमद मो0 शरीफ,डॉ जीशान अहमद,फरमान अहमद,शादाब अहमद,मुफीद अहमद,लाइक अहमद, मोहम्मद इलियास, एवं सैकड़ों लोग मौजूद रहे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.