राज्य में कोरोना संक्रमण की रिकवरी दर 98.6 प्रतिशत

0 101

लखनऊ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि राज्य सरकार की ट्रेस, टेस्ट एण्ड ट्रीट की रणनीति प्रदेश में कोविड संक्रमण नियंत्रित करने में प्रभावी सिद्ध हो रही है। इस नीति को निरन्तर प्रभावी ढंग से लागू करने के निर्देश देते हुए उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमण अभी पूरी तरह से समाप्त नहीं हुआ है। इसलिए संक्रमण से बचाव के सम्बन्ध में थोड़ी लापरवाही भी भारी पड़ सकती है। इसके दृष्टिगत कोरोना प्रोटोकाॅल का पूर्णतया पालन सुनिश्चित कराया जाए तथा कोविड-19 से बचाव और उपचार की व्यवस्था को प्रभावी रूप से जारी रखा जाए।

मुख्यमंत्री  आज यहां अपने सरकारी आवास पर आहूत एक उच्चस्तरीय बैठक में प्रदेश में कोविड-19 की स्थिति की समीक्षा कर रहे थे। बैठक में मुख्यमंत्री  को अवगत कराया गया कि विगत 24 घण्टों में राज्य में कोरोना संक्रमण के 88 नए मामले प्रकाश में आये हैं। इसी अवधि में 140 संक्रमित व्यक्तियों को सफल उपचार के बाद डिस्चार्ज किया गया है। वर्तमान में प्रदेश में कोरोना संक्रमण के एक्टिव मामलों की संख्या 1,339 है। पिछले 24 घण्टों में प्रदेश में कुल 2,60,581 कोरोना टेस्ट किये गये। राज्य में अब तक कुल 06 करोड़ 18 लाख 53 हजार 252 कोरोना टेस्ट सम्पन्न हो चुके हैं। राज्य में कोरोना संक्रमण की रिकवरी दर 98.6 प्रतिशत है।

मुख्यमंत्री को अवगत कराया गया कि जनपद अलीगढ़, हाथरस, कासगंज, ललितपुर, महोबा और श्रावस्ती अब कोविड संक्रमण से मुक्त हैं। जुलाई माह में अब तक प्रदेश की कोविड पाॅजिटिविटी दर 0.04 है। विगत दिवस 38 जनपदों में कोरोना से संक्रमण का एक भी नया केस नहीं पाया गया है, जबकि 36 जनपदां में इकाई अंक में मरीज पाये गये।

मुख्यमंत्री ने कहा कि देश के कई राज्यों में कोरोना पाजिटिविटी रेट काफी ज्यादा है। इसके दृष्टिगत रेलवे स्टेशन, हवाई अड्डे तथा बस स्टेशन पर एन्टीजन टेस्ट की व्यवस्था की जाए। उन्होंने कहा कि बाहरी राज्यों से आने वाले लोगों के सम्बन्ध में कोविड प्रोटोकाॅल बनाया जाए तथा इस सम्बन्ध में आवश्यक दिशा-निर्देश जारी किये जाएं। उन्होंने कहा कि यह सुनिश्चित किया जाए कि सभी लोग अनिवार्य रूप से मास्क का प्रयोग करें।

मुख्यमंत्री  ने कहा कि प्रदेश में कोरोना टीकाकरण के प्रति लोगों को सतत जागरूक किया जाए। कोविड टीकाकरण की सुगमता के लिए आनलाइन स्लाट बुकिंग को प्रोत्साहित किया जाए। इससे वैक्सीनेशन सेण्टर पर भीड़ एकत्र नहीं होगी। उन्होंने कहा कि गांवों में काॅमन सर्विस सेन्टर के माध्यम से कोविड टीकाकरण हेतु प्रदान की जा रही निःशुल्क पंजीकरण सुविधा का व्यापक प्रचार-प्रसार किया जाए। मुख्यमंत्री जी को अवगत कराया गया कि अब तक 03 करोड़ 95 लाख 20 हजार से अधिक कोरोना वैक्सीन डोज लगाई जा चुकी है।

मुख्यमंत्री  ने कहा कि जनप्रतिनिधियों द्वारा सामुदायिक एवं प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों को गोद लेने के आह्वान का सकारात्मक प्रभाव दिख रहा है। ऐसे प्रयासों से स्वास्थ्य तंत्र को बेहतर बनाने में मदद मिलेगी। नगर निकायों में भी पार्षदों द्वारा स्वास्थ्य केन्द्रों को गोद लेने की व्यवस्था को गतिमान रखा जाए।

Leave A Reply

Your email address will not be published.