पिपर कुण्डी गांव में बृहस्पतिवार की रात को दो भैंस खोल ले गए चोर

0 59

कौशाम्बी : बृहस्पतिवार की रात को पिपर कुण्डी गांव में दो भैंस चुरा ले गए चोर क्षेत्रीय थाना करारी में सूचना देने के बाद भी नहीं आई पुलिस नंदलाल कुशवाहा पुत्र पिटई लाल ग्राम पिपर कुण्डी थाना करारी जनपद कौशांबी का मूल निवासी है नंदलाल कुशवाहा का कहना है की रोजी रोटी के लिए मैंने घर में 2 भैंस पाल रखी है जो घर पर बांधी थी 27/01/2022 के मध्य रात्रि मेरी भैंस कुछ अज्ञात चोर घर से खोल ले गए जब मैं सुबह उठा तो मुझे जानकारी हुई जिन्हें अपने स्तर से काफी खोजबीन किया किंतु दोनों भैंसे का कोई सुराग नहीं पता चला ।

जिसकी सूचना मैंने पत्र के माध्यम से क्षेत्रीय थाना करारी में दे दी है किंतु अभी तक कोई भी सिपाही या हल्का दरोगा नहीं आया मेरे घर पर जांच पड़ताल करने के लिए जिससे मैं बहुत दुखी हूं पुलिस विभाग के इस लापरवाही से स्पष्ट होता है कि इन्हीं लोगों की मिलीभगत से क्षेत्र आए दिन घटनाएं होती रहती है यह घटना कोई आज ही नहीं इसके पूर्व में भी कई घटनाएं हुई हैं और कई गांव में भैंस खोली गई है जिसका अभी तक पुलिस ने कोई सुराग नहीं लगाया

आखिर क्यों नही मौके पर जा रही पुलिस क्या कारण है की प्रार्थना पत्र लिखकर देने पर भी नही पहुंची घटना स्थल पर अब इससे साफ जाहिर होता है की करारी पुलिस की मिली भगत से ही हो रही हैं क्षेत्र में आए दिन चोरिया यह ग्रामीणों व पीड़ित का कहना है । ना जाने ऐसी दर्जनों गांवों में लूट कर चुके चोरों के हौसले बुलन्द है जिसका रीजन सिर्फ पुलिस का मौके पर ना पहुंचना और हुई चोरी का खुलासा न करना यही कारण है। चोर बेखौफ होकर आए दिन क्षेत्र में छोटी और बड़ी घटनाओं को अंजाम देते रहते है और पुलिस हांथ पर हांथ धरे बैठी रहती है

आखिर पुलिस को सरकार हर महीने तनख्वाह देती है फिर भी पुलिस आम पब्लिक की कोई सुनवाई नहीं करती नहीं उनके द्वारा दिए गए एप्लीकेशन पर कोई कार्यवाही भी नही करती है दिए गए एप्लीकेशन को रद्दी के भाव फेंक दिया जाता है जिसका जीता जागता सबूत पिपर कुंडली गांव का है हाल ही में हुई दो भैंसों की चोरी का है जहां पर प्रार्थी के एप्लीकेशन देने के बावजूद भी 24 घंटे बीत गए फिर भी अभी तक कोई भी पुलिस या क्षेत्रीय दरोगा पीड़ित के घर नहीं पहुंचा।

Leave A Reply

Your email address will not be published.