महिला सहित तीन चढ़े पुलिस के हत्थे , प्रेम-प्रसंग व संपत्ति के लालच में किया गया हत्या का प्रयास

0 95

गोरखपुर ।  अज्ञात व्यक्तियों द्वारा कुसम्ही जंगल में एक बुजुर्ग की 10 जनवरी 2021 को गला रेत कर हत्या करने का प्रयास किया गया था बुजुर्ग को इलाज हेतु बाबा राघव दास मेडिकल कॉलेज में भर्ती पुलिस द्वारा कराया गया था स्वास्थ्य में सुधार होने के पश्चात पुलिस द्वारा पूछताछ में बुजुर्ग व्यक्ति ने अपना नाम सुदामा पुत्र स्वर्गीय भूवाल निवासी गोपलापुर थाना रामगढ़ ताल गोरखपुर बताया

जिसके संबंध में स्थानीय थाने में 0018/ 2021 धारा 307 बनाम अज्ञात मुकदमा पंजीकृत किया गया था डीआईजी/ एसएसपी जोगिंदर कुमार ने मामले को गंभीरता से लेते हुए पुलिस अधीक्षक नगर सोनम कुमार के मार्गदर्शन में तथा क्षेत्राधिकारी  कैंट सुमित शुक्ला के नेतृत्व में मुकदमे के  अनावरण हेतु प्रभारी निरीक्षक खोराबार नासिर हुसैन व उनकी टीम को लगाया ।

प्रभारी निरीक्षक खोराबार ने तत्परता दिखाते हुए चंपारण ढाबा गोपलापुर से अर्जुन चौहान पुत्र स्वर्गीय रामसूरत चौहान निवासी बेतियाहाता रुस्तमपुर ढाला लोनिया टोला थाना कैंट अमित साहनी पुत्र लोरिक साहनी निवासी तुर्रा बाजार थाना पिपराईच व गुड़िया पत्नी कुंवर यादव निवासी गोपलापुर थाना रामगढ़ताल को गिरफ्तार किया।

पुलिस अधीक्षक नगर सोनम कुमार ने पुलिस लाइन व्हाइट हाउस में प्रेस वार्ता करते हुए बताया कि प्रॉपर्टी के लालच में  गुड़िया अपने प्रेमी अर्जुन के साथ मिलकर टेंपो ड्राइवर अमित सहानी के सहयोग से कुसम्ही जंगल में ले जाकर चाकू से गला रेत कर मरा जानकर फेक दिये थे  संयोग रहा कि राहगीरों की सहयोग से पुलिस ने मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया स्वस्थ होने पर धायल व्यक्ति ने अपना नाम  सुदामा बताया सुदामा की एक लड़की थी जिसका शादी रामनगर करजहा बबलू के साथ कर दिया था सुदामा को खाना  बनाकर गुड़िया खिलाती थी

जिसकी नियत खराब हो गयी वृद्ध सुदामा को अपने प्रेमी अर्जुन के साथ मौत के घाट उतारने प्रयास किया जिसका जंगल में गला रेत कर फेंक दिया था गुड़िया और अर्जुन का पिछले 10 वर्षों से प्रेम प्रपंच चल रहा था। जिसे हमारी खोराबार पुलिस ने घटना में प्रयुक्त चाकू व टेंपो के साथ अर्जुन चौहान अमित साहनी और गुड़िया को गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त की। प्रेस वार्ता के दौरान क्षेत्राधिकारी कैंट सुमित शुक्ला भी रहे मौजूद।

Leave A Reply

Your email address will not be published.